अपनी फिल्मों में किसी एक्टर को विलेन नहीं रखते थे यश चोपड़ा, पूछने पर बताई थी ये वजह

यश चोपड़ा अपनी फिल्मों में हीरो की छवि पर बहुत ध्यान देते थे। उनकी फिल्म की खासियत थी कि उसमें निगेटिव रोक काफी कमजोर होता था या फिर होता ही नहीं था। इस पर एक बार यश चोपड़ा से पूछा था तो उन्होंने ये जवाब दिया था।

दिवंगत फिल्म-निर्माता यश चोपड़ा (Photo-Indian Express Archive)

दिवंगत फिल्म मेकर यश चोपड़ा को बॉलीवुड का ‘गॉड ऑफ लव’ भी कहा जाता था क्योंकि उनकी फिल्मों की स्टोरी में प्यार को काफी तवज्जो दी जाती थी। यश की फिल्मों में इंसान और प्रेम पर ही सबसे ज्यादा जोर दिया जाता था। उनकी फिल्मों में निगेटिव रोल पर ज्यादा फोकस नहीं किया जाता था। बल्कि उनका पूरा फोकस हीरो की छवि को लेकर होता था। यश चोपड़ा से एक बार इस बारे में सवाल भी पूछा गया था।

यश चोपड़ा ने कहा था कि मैं ह्यूमन रिलेशंस पर फिल्में बनाता हूं। मैं अपनी फिल्मों बोल्ड या रोमांचिक का नाम नहीं दूंगा। यश चोपड़ा ने कहा था, ‘हर मानव की सबसे बड़ी इच्छा होती है कि उसे प्यार किया जाए। ज्यादा से ज्यादा प्यार किया जाए। बार-बार किया जाए। बार-बार चाहे जाने की इच्छा की पूर्ति के कारण जीवन में कई किरदार आ सकते हैं।’

यश चोपड़ा ने खुद स्वीकार किया था कि मेरी फिल्म न कोई विलेन होता है और न कोई वैंप होता है। यश चोपड़ा ने कहा था, ‘इंसान बहुत ही जटिल प्राणी है। मेरी पिक्चर में कोई विलेन या वैंप नहीं होता। मेरा मानना है कि आदमी खुद ही विलेन है और ख़ुद ही हीरो है। डेस्टिनी हीरो है और वो ही विलेन है। आपको अपने जीवन के किसी भी मोड़ पर ये नहीं सोचना चाहिए कि आप प्यार नहीं कर सकते। आप किसी से प्यार नहीं करते तो आपको कोई प्यार नहीं करता।’

DDLJ के लिए शाहरुख को यश चोपड़ा ने किया था फोन: शाहरुख खान के करियर में मील का पत्थर साबित होने वाली फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ सुपरहिट हुई थी। इसके बाद शाहरुख को रोमांटिक हीरो का टैग मिला। लेकिन इसके लिए शाहरुख कई बार मना कर चुके थे। उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था, ‘मैं बाजीगर और डर में अपने निगेटिव रोल के लिए फेमस हो गया था और रोमांचिक फिल्में नहीं करना चाहता था।’

आदित्य चोपड़ा ने इसके बाद सैफ अली खान को फिल्म में लेने का मन बना लिया था। लेकिन यश चोपड़ा ने खुद शाहरुख से बात करने का फैसला किया। यश चोपड़ा ने एसआरके से कहा, अगर आपको बड़े पर्दे पर जगह बनानी है तो आपको रोमांटिक रोल करना ही होगा। इसके बाद शाहरुख ने ‘राज’ का किरदार निभाने के लिए ‘हां’ की।