अफगानिस्तान से दिल्ली आए 16 लोग कोरोना पॉजिटिव, WHO वैज्ञानिक की चेतावनी- भारत को अभी राहत नहीं

डब्लूएचओ की वैज्ञानिक स्वामीनाथन ने कहा कि भारत में COVID-19 स्थानिकता के चरण में प्रवेश कर रहा है। वहीं अफगानिस्तान से आए 16 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

afghan sikh corona positive अफगानिस्तान से लौटे सिख (फोटो- @HardeepSPuri)

भारत में कोरोना के मामले भले ही घट रहे हों लेकिन अभी भी कोरोना का कहर बरकार है। डब्लूएचओ की मुख्य वैज्ञानिक ने भारत में अभी कोरोना बना रह सकता है। उधर अफगानिस्तान से भारत आए लोगों में से 16 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनके संपर्क में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी भी आए थे।

विश्व स्वास्थ्य संगठन की मुख्य वैज्ञानिक डॉ सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि भारत में अभी कोरोना बना रहेगा। यहां COVID-19 स्थानिकता के चरण में प्रवेश कर रहा है, जहां निम्न या मध्यम स्तर का संक्रमण चल रहा है। स्थानिक अवस्था तब होती है जब कोई आबादी वायरस के साथ रहना सीखती है। यह महामारी के चरण से बहुत अलग है, जब वायरस एक आबादी पर हावी हो जाता है।

द वायर को दिए एक साक्षात्कार में स्वामीनाथन ने कहा कि भारत के आकार और देश के विभिन्न हिस्सों में जनसंख्या की विविधता और प्रतिरक्षा की स्थिति को देखते हुए, यह बहुत संभव है कि स्थिति इसी तरह से जारी रह सकती है। हम स्थानिकता के चरण में प्रवेश कर रहे हैं, जहां निम्न स्तर का या मध्यम स्तर का संक्रमण चल रहा है, लेकिन हम उस प्रकार की वृद्धि नहीं देख रहे हैं जो हमने कुछ महीने पहले देखी थी।

वहीं दूसरी तरफ अफगानिस्तान से भारत पहुंचे कई लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। अफगानिस्तान से मंगलवार को आए कुल 78 लोगों में से 16 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें तीन अफगान सिख भी शामिल हैं, जिन्होंने गुरु ग्रंथ साहिब के स्वरूप को धारण किया था। इन्हें क्वारंटाइन किया गया है। इनके संपर्क में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी भी तब आए थे, जब गुरु ग्रंथ साहिब के स्वरूप को उन्होंने धारण किया था।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता आरपी सिंह ने ट्वीट किया, “धर्मेंद्र सिंह, कुलराज सिंह और हिम्मत सिंह तीनों जो अफगानिस्तान से श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के स्वरूप लाए थे, उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है उन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया है। मैं उनके शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।”

इस बीच, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कहा है कि अफगानिस्तान से आने वाले लोगों को 14 दिन का क्वारंटाइन अनिवार्य होगा।

बता दें कि तालिबान पर अफगानिस्तान के कब्जे के बाद से लोग देश छोड़कर अन्य मुल्क जाने की कोशिश कर रहे हैं। अभी तक अफगानिस्तान से 228 भारतीय सहित 626 लोगों को सरकार अफगानिस्तान से निकाल चुकी है।