अमिताभ बच्चन को टक्कर देने वाला मैं अकेला एक्टर हूं; फिल्म इंडस्ट्री छोड़ने के सवाल पर बोले थे विनोद खन्ना

विनोद खन्ना का साल 2017 में निधन हो गया था। उन्होंने अमिताभ बच्चन के साथ कई हिट फिल्मों में काम किया था। एक बार अमिताभ को लेकर उन्होंने लाइव इंटरव्यू में कुछ ऐसा कहा था।

Vinod Khanna Amitabh Bachchan अमिताभ बच्चन के साथ विनोद खन्ना (फाइल फोटो)

विनोद खन्ना ने साल 2017 में दुनिया को अलविदा कह दिया था। उन्होंने कई हिट फिल्मों में काम किया था। उनकी और अमिताभ बच्चन की जोड़ी को खूब पसंद भी किया गया था। दोनों ने परवरिश और अमर, अकबर, एंथनी जैसी फिल्मों में साथ काम किया था। विनोद खन्ना से एक बार अमिताभ बच्चन के स्टारडम को लेकर सवाल पूछा गया था। इसके जवाब में उन्होंने कहा था कि फिल्म इंडस्ट्री में अकेला मैं ही हूं जो अमिताभ बच्चन को टक्कर दे सकता हूं।

‘न्यूज़24’ के शो में उनसे पूछा गया था, मल्टीस्टारर फिल्मों में आपकी जो हिट हैं उसका क्रेडिट अमिताभ बच्चन को मिला। क्या आपको ऐसे ही प्रेशर की वजह से संन्यास लेना पड़ा था? इसके जवाब में विनोद खन्ना कहते हैं, ‘आप कोई भी फिल्म उठाकर देख लीजिए। वो कोई भी फिल्म मेरे बिना नहीं बन सकती थी। फिल्म इंडस्ट्री में मैं ही अकेला ऐसा एक्टर था जो अमिताभ बच्चन को टक्कर दे रहा था ऐसा कोई करने की सोच भी नहीं सकता था।’

विनोद खन्ना आगे कहते हैं, ‘यहां तक कि पूरे मीडिया ने हमारे मुकाबले को जिंदा रखा। ये तो सिर्फ कहने की बात है। जैसे आप कह रही हैं। अगर आप किसी से भी पूछेंगे तो 100 लोगों में से 50 विनोद खन्ना कहेंगे और 50 अमिताभ बच्चन। मैंने 1978 में इंडस्ट्री छोड़ दी थी। मेरी आखिरी फिल्म भी अमिताभ बच्चन के साथ थी। मैंने अपनी मर्जी से फिल्म इंडस्ट्री छोड़ने का फैसला किया था। मैं ओशो के पीछे अमेरिका भी चला गया था। मैंने उन्हें गुरु नहीं बनाया बल्कि उन्होंने मुझे अपना शिष्य बनाया।’

क्यों ले लिया था अचानक संन्यास? खन्ना बताते हैं, ‘मैं बहुत पहले से मेडिटेशन कर रहा था। मैंने माली से लेकर किचन तक में भी काम किया। आपको गुरु की हर बात को मानना चाहिए। मुझे वो सभी काम करने में बहुत मजा आता था। यहां तक मैं तो प्लम्बर तक भी बना। ये सभी मैंने ओशो के कहने पर किया। मुझे बहुत संतुष्टि मिली। दूसरे काम करने से आपकी अड़चन बहुत दूर होती है।’ बता दें, विनोद खन्ना का निधन 27 अप्रैल 2017 को हो गया था।