असदुद्दीन ओवैसी ने पूछा- मोदी सरकार बताए कोविशील्ड वैक्‍सीन 64 से ऊपर वालों के ल‍िए कम असरदार है क्‍या? दूर करे भ्रम

ओवैसी ने कहा, ”पीएम ने जो वैक्सीन ली है वह कोवैक्सीन है। सरकार इस असमंजस को दूर करे कि क्या कोविशील्ड बुजुर्गों पर कम असरदार है क्या?”

aimim, TMC

AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ने आज कहा कि देश में सबको कोरोना वायरस से बचने के लिए वैक्सीन लेना जरूरी है। आज पीएम ने वैक्सीन लेकर सबको बताया कि देश में सभी को वैक्सीन लेनी है। हालांकि सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन को लेकर ओवैसी ने कहा कि कंपनी खुद कहती है कि ये वैक्सीन 18 साल से 64 साल की उम्र वालों के लिए अच्छी है। 64 साल से ऊपर की आयु वालों पर वैक्सीन इतनी प्रभावी नहीं है। ओवैसी ने कहा, ”मैं मोदी सरकार से ये पूछना चाहता हूं कि क्या जो ये बात है क्या ये सच है? पीएम ने जो वैक्सीन ली है वह कोवैक्सीन है। सरकार इस असमंजस को दूर करे कि क्या कोविशील्ड बुजुर्गों पर कम असरदार है क्या?”

बता दें कि पीएम मोदी ने आज कोरोना वायरस का टीका लिया। आज से देशभर में 60 साल से ऊपर आयु के लोगों और 45 साल से ज्यादा आयु के लोग( जिनको कोई गंभीर बीमारी है), को टीका लगना शुरू हुआ है। पीएम मोदी ने दिल्ली के एम्स में वैक्सीनेशन कराया। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, “आज मैंने कोविड वैक्सीन की पहली खुराक एम्स में ली। जिस तरह हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने कम समय में कोविड से लड़ने के लिए ये वैक्सीन तैयारी की है। अपने आप में काबिले तारीफ है। मैं सभी से अपील करता हूं जो वैक्सीन लेने लायक हैं वे जरूर लें। मिलकर देश को कोरोना मुक्त बनाएं!”

पीएम के ट्वीट का जवाब देते हुए भारत बायोटैक ने लिखा, ”माननीय प्रधनमंत्री की आत्मानिर्भर भारत निर्माण के लिए प्रतिबद्धता से हम प्रेरित हैं और अपनी विनम्रता प्रकट करते हैं। हम सब मिलकर कोविड19 से लड़ेंगे और जीतेंगे।”

मालूम हो कि पीएम मोदी ने कोवैक्सीन ली। जिसे कि भारत बायोटैक और आईसीएमआर ने मिलकर तैयार किया है। कई लोगों द्वारा इस वैक्सीन को लेकर सवाल उठाए जाने के बाद पीएम ने ये वैक्सीन ली है। जिससे कि लोगों का संशय दूर हो।

वहीं बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि आज नए दौर के टीकाकरण कार्यक्रम के पहले दिन मुझे टीकाकरण का अवसर मिला है। हमने पहले से ही तय कर लिया है कि बिहार में टीकाकरण बिल्कुल मुफ्त होगा। जो 50 के करीब निजी अस्पताल भी चिन्हित किए गए हैं वहां भी टीकाकरण का मुफ्त प्रबंध राज्य सरकार कराएगी।

इस बीच पटना में कोरोना वैक्सीन पर कांग्रेस नेताओं के सुर बदले नजर आए। पीएम और मुख्यमंत्री के वैक्सीनेशन लेने के बाद कांग्रेस नेताओं ने कहा कि वे भी कोरोना वैक्सीन लेंगे।

कांग्रेस ने वैक्सीन के तीसरे ट्रायल पूरे ना होने पर वैक्सीन के लॉन्च करने पर सवाल किया था।