‘आई जस्ट LOVE चीकू,’ कपिल शर्मा शो में विराट कोहली को देख बोली थी फैन, स्टार क्रिकेटर ने यह दिया था जवाब

कोहली को टीम के साथी प्यार से चीकू कहते सुनाई पड़ जाते है। जब पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी टीम में थे तो तब वे सबसे ज्यादा चीकू नाम का इस्तेमाल करते थे। इस बात को कोहली ने भी स्वीकार किया है कि माही ने ही उनके इस नाम को प्रसिद्ध कर दिया।

Virat Kohli, kapil sharma show

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली अपने खेल के साथ-साथ फैशन और स्टाइल के लिए भी जाने जाते हैं। कोहली को टीम के साथी प्यार से चीकू कहते सुनाई पड़ जाते है। जब पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी टीम में थे तो तब वे सबसे ज्यादा चीकू नाम का इस्तेमाल करते थे। इस बात को कोहली ने भी स्वीकार किया है कि माही ने ही उनके इस नाम को प्रसिद्ध कर दिया। इस नाम के कारण कोहली एक बार कपिल शर्मा के शो पर अजीबोगरीब स्थिति में पहुंच गए थे।

दरअसल, कपिल शर्मा के शो पर जाने वाले मेहमानों से वहां मौजूद लोग भी सवाल करते हैं। इसी क्रम में एक फीमेल फैन ने कोहली से पूछा, ‘‘मैंने सुना है कि विराट सर का निकनेम चीकू है और मेरा फेवरेट फ्रूट चीकू है। आई जस्ट लव चीकू। मैं विराट सर से ये जानना चाहती हूं कि क्या सर सच में चीकू की तरह टेस्टी हैं या यमी हैं।’’ नवजोत सिंह सिद्धू ने तुरंत ही मजाकिया लहजे में उस फीमेल फैन से कहा- चख कर देख लो मीठा है या खट्टा है। इसके बाद कोहली ने कहा कि शेक बनाकर इनको पिलाते हैं तब पता चलेगा।

विराट ने अपने इस नाम के पीछे की कहानी को विस्तार से सुनाते हुए कहा, ‘‘इस नाम का पता धोनी भाई के द्वारा सबको चला। स्टंप माइक के पीछे वो मुझे फील्डिंग के दौरान कहते थे कि चीकू इधर हो जा या चीकू उधर हो जा। सभी मुझे चीकू कहते हैं। अब वो (धोनी) मुझे विराट कहते हैं तो अजीब लगता है। मेरे कई लोगों ने कहा कि चीकू एक फोटो हो जाए तो मैं सोचने लगता हूं कि पड़ोसी हूं क्या जो चीकू कह रहा।’’

कोहली ने इसके आगे कहा, ‘‘दिल्ली अंडर-17 में हमारे कोच अजीत चौधरी थे। रणजी ट्रॉफी के दौरान मैं हट्टा-कट्टा था। वो उस दौरान कोचिंग के लिए आ गए। मुंह मेरा बहुत ज्यादा गोल था। उस समय हमलोग मुंबई गए थे मैच खेलने। मैं जब टोपी उतारता था तो 6-7 बाल आ जाते थे। मुझे लगा कि मेरे बाल गए। वहां किसी ने मुझसे कहा कि छोटे-छोटे बाल कर लो और तेल लगाओ। उस समय चंपक कॉमिक्स आती थी। उसमें चीकू एक रैबिट था। जब मैं प्रैक्टिस के लिए गया तो कोच सर ने मुझे चीकू कहा था। तब से यह नाम मेरे साथ चल रहा है।’’