आडवाणी जी को PM का उम्मीदवार बनाया, लेकिन वह स्वेच्छा से हटे- BJP नेता ने किया दावा, अंजना ओम कश्यप बोलीं- किसे बहला रहे हैं

भाजपा प्रवक्ता ने दावा किया कि लाल कृष्ण आडवाणी को पीएम पद का उम्मीदवार बनाया गया था, लेकिन वह स्वेच्छा से पीछे हटे थे।

anjana om kashyap, lal krishna advani भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अब कांग्रेस पार्टी का भी साथ छोड़ दिया है। उनका कहना है कि वह अब कांग्रेसी नहीं रहे। दूसरी ओर नवजोत सिंह सिद्धू ने भी बीते मंगलवार को पंजाब कांग्रेस प्रमुख के पद से इस्तीफा दिया था। कांग्रेस में मचे इस सियासी घमासान को लेकर आजतक के डिबेट शो ‘हल्ला बोल’ में भी चर्चा की गई, जहां भाजपा प्रवक्ता ने यह दावा किया कि 83 वर्ष की उम्र में भाजपा ने आडवाणी जी को पीएम पद का उम्मीदवार बनाया था, लेकिन वह स्वेच्छा से पीछे हटे। हालांकि उनकी बात पर अंजना ओम कश्यप भी सवाल करने से पीछे नहीं रहीं।

अंजना ओम कश्यप ने भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी से सवाल किया था, “आप लोगों ने भी कई लोगों को मार्गदर्शक मंडल में डाला था। उस समय आयू योग्यता क्या मायने रखती थी।” उनका जवाब देते हुए भाजपा नेता ने कहा, “यहां जितने भी लोग बैठे हैं, मैं चुनौती से कहता हूं कि आडवाणी जी को 83 वर्ष की उम्र में पीएम पद का उम्मीदवार बनाया गया था।”

सुधांशु त्रिवेदी ने अपने बयान में आगे कहा, “विश्व के इतिहास में कोई भी व्यक्ति इस आयू में प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं बना है। लेकिन उसके बाद उन्होंने स्वेच्छा से उस विषय को अलग किया, पार्टी ने कभी भी उनका असम्मान नहीं किया और मोदी जी ने भी जाकर उनका आशीर्वाद लिया। हम सभी स्वीकार करते हैं कि एक आयू के बाद उन्होंने स्वेच्छा से खुद को अलग कर लिया था।”

सुधांशु त्रिवेदी की बात पर सवाल करते हुए अंजना ओम कश्यप ने सवाल किया, “स्वेच्छा से, सुधांशु जी किसे बहलाने की कोशिश कर रहे हैं आप, मुझे, खुद को या फिर दर्शकों को। कैप्टन अमरिंदर की उम्र कितनी है।” इसपर भाजपा नेता ने जवाब दिया, “80 वर्ष के आसपास हैं, लेकिन इसमें तो कांग्रेस पार्टी को डीलिंग करनी चाहिए ना।”

सुधांशु त्रिवेदी की बाद पर अंजना ओम कश्यप ने सवाल करते हुए कहा, “आप लोग जो इतनी डीलिंग कर रहे हैं उम्मीदों वाली। कृषि कानूनों पर जो बातचीत हो रही है, जो उम्मीदों वाली आप डीलिंग कर रहे हैं, अंत में उसका क्या लक्ष्य है।”