आप दल बदलते हैं- शत्रुघ्न सिन्हा के लिए बोल पड़े थे राजेश खन्ना, काका की बातों का एक्टर ने यूं दिया था जवाब

राजेश खन्ना ने एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा को कहा था कि आप दल बदलते हैं। काका की इस बात पर एक्टर ने भी जवाब देने में कसर नहीं छोड़ी थी।

shatrughan sinha, rajesh khanna बॉलीवुड एक्टर राजेश खन्ना और शत्रुघ्न सिन्हा (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

बॉलीवुड के महूर एक्टर राजेश खन्ना और एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा ने फिल्म ‘पापी पेट का सवाल’ है से लेकर ‘दिल-ए-नादान’ जैसी कई फिल्मों में काम किया है। राजेश खन्ना एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा को अपना छोटा भाई तक कहते थे। साल 1992 में दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ दिल्ली से चुनाव लड़ा था। जहां एक तरफ शत्रुघ्न सिन्हा भाजपा की सीट से मैदान में उतरे थे तो वहीं राजेश खन्ना कांग्रेस की सीट से चुनावी मैदान में आए थे। इस चुनाव के दौरान दोनों में थोड़ी दरार भी आ गई थी। इतना ही नहीं, राजेश खन्ना ने शत्रुघ्न सिन्हा को ‘दल बदलने’ वाला तक कह दिया था।

राजेश खन्ना से जुड़ी इस बात का खुलासा खुद शत्रुघ्न सिन्हा ने अपने इंटरव्यू में किया था। शत्रुघ्न सिन्हा ने चुनावी दिनों के बारे में बात करते हुए राजेश खन्ना की भी बातों को याद किया और बताया था, “राजेश खन्ना मेरे दोस्त हैं, लेकिन कई बार उन्होंने मेरे लिए कहा कि शत्रुघ्न सिन्हा आप दल बदलते हैं।”

राजेश खन्ना की इन बातों का जवाब शत्रुघ्न सिन्हा ने भी जबरदस्त अंदाज में दिया था। उन्होंने कहा, “लेकिन पहली बात तो यह है कि जब किसी पार्टी पर सवाल खड़े हुए तो मैंने उस पार्टी को बदला नहीं। दूसरी बात यह कि किसी भी दल के लिए मेरा समर्थन उसकी परफॉर्मेंस पर ही निर्भर करता है, उससे ज्यादा कुछ नहीं।”

शत्रुघ्न सिन्हा ने राजेश खन्ना का जिक्र करते हुए आगे कहा था, “राजेश खन्ना यह बयान देते हुए यह भूल गए थे कि उनके साथ बैठे वीसी शुक्ला, जो कांग्रेस से जनता दल में गए। जनता दल से समाजवादी जनता पार्टी में गए, वहां से कांग्रेस आई में गए और बाद में भाजपा का दरवाजा खटखटाने लगे। क्योंकि भाजपा उस वक्त सरकार बना रही थी।”

बता दें कि लोकसभा चुनाव में जहां राजेश खन्ना को कांग्रेस की सीट से जीत हासिल हुई थी तो वहीं शत्रुघ्न सिन्हा को हार का मुंह देखना पड़ा था। इस चुनाव के बाद राजेश खन्ना एक्टर से नाराज रहने लगे थे। इस बारे में बात करते हुए टाइम्स ऑफ इंडिया से शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा था, “ईमानदारी से बताऊं तो मैं उनके खिलाफ चुनाव नहीं लड़ना चाहता था।”

शत्रुघ्न सिन्हा ने राजेश खन्ना के बारे में बात करते हुए कहा था, “लेकिन मैं लाल कृष्ण आडवाणी जी को मना नहीं कर सका। मैंने ये बातें राजेश को समझाने की कोशिश कीं, लेकिन उन्हें ये चीजें बिल्कुल भी पसंद नहीं आईं। हमने लंबे समय तक एक-दूसरे से बात नहीं की। हालांकि सालों बाद हमारे बीच चीजें ठीक होने लगी थीं। मैं उनसे मफी भी मांगना चाहता था। लेकिन मेरे ऐसा करने से पहले ही उनका निधन हो गया था।”