इंग्लैंड पर जीत से आसान हुई भारत की WTC फाइनल खेलने की राह, जानिए कितने अंतर से जीतनी है सीरीज

मौजूदा सीरीज का नतीजा यदि 3-1 से इंग्लैंड के पक्ष में जाता है तभी वह वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेल पाएगा। मतलब अब यह तय हो गया है कि इंग्लैंड को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलने के लिए सीरीज के अगले दोनों मैच में जीत हासिल करनी होगी।

IND vs ENG Test Team India

भारतीय क्रिकेट टीम ने चेन्नई में खेले गए टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 317 रन से हरा दिया। इसके साथ ही उसकी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलने की राह और आसान हो गई। भारतीय टीम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर पहुंच गई है। वहीं इंग्लैंड की टीम शीर्ष से लुढ़ककर चौथे नंबर पर पहुंच गई है।

चेपॉक के मैदान पर इस जीत के साथ भारत डब्ल्यूटीसी रैंकिंग में 69.7 अंक प्रतिशत और कुल 460 अंक के साथ न्यूजीलैंड के बाद दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। तालिका की शीर्ष दो टीमें लॉर्ड्स के मैदान पर जून में फाइनल खेलेगी। न्यूजीलैंड के नाम 70 अंक प्रतिशत के साथ कुल 420 अंक है। भारतीय टीम श्रृंखला का पहला मैच 227 रन से हार गई थी। डब्ल्यूटीसी फाइनल में पहुंचने के लिए भारत को कम से कम एक जीत और एक ड्रॉ की जरूरत है। इस टेस्ट से पहले भारतीय टीम चौथे स्थान पर थी।

विराट कोहली की टीम डब्ल्यूटीसी चक्र में छठी सीरीज खेल रही है। इसमें उसने 10 मैच जीते है, जबकि उसे चार में हार का सामना करना पड़ा है। एक मैच ड्रॉ रहा है। ऑस्ट्रेलियाई टीम 69.2 अंक प्रतिशत और कुल 332 अंकों के साथ दूसरे तथा इंग्लैंड की टीम चौथे स्थान पर है। इंग्लैंड के नाम कुल 442 है जो 67 अंक प्रतिशत के बराबर है। चेन्नई में हुए पहले टेस्ट को जीतने के बाद इंग्लैंड अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गया था। भारत-इंग्लैंड सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच 24 फरवरी से खेला जाएगा। मोंटेरा मैदान में खेले जाना वाला यह दिन-रात्रि मैच है।

16 फरवरी को जारी आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप अंक तालिका में भारत दूसरे नंबर पर पहुंच गया, जबकि इंग्लैंड चौथे नंबर पर फिसल गया। (सोर्स- आईसीसी ट्विटर)

नौ फरवरी को जारी आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप अंक तालिका में इंग्लैंड शीर्ष पर पहुंच गया था, जबकि भारत चौथे नंबर पर खिसक गया था। (सोर्स- आईसीसी ट्विटर)

भारतीय टीम यदि यह सीरीज 3-1 या 2-1 से जीतती है तो वह वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच जाएगी। सीरीज यदि 2-2 या 1-1 से ड्रॉ होती है या फिर इंग्लैंड 2-1 से सीरीज अपने नाम कर लेता है तो दोनों में से कोई भी टीम फाइनल में नहीं पहुंच पाएगी और ऑस्ट्रेलियाई टीम न्यूजीलैंड के साथ खेलने के लिए क्वालिफाई कर जाएगी।

मौजूदा सीरीज का नतीजा यदि 3-1 से इंग्लैंड के पक्ष में जाता है तभी वह वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेल पाएगा। मतलब अब यह तय हो गया है कि इंग्लैंड को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलने के लिए सीरीज के अगले दोनों मैच में जीत हासिल करनी होगी।