इन छोटी कंपनि‍यों ने निवेशकों की कराई जबरदस्‍त कमाई, 1000 से 5000 फीसदी तक का दिया रिटर्न

शेयर मार्केट में कई ऐसी छोटी कंपन‍ियां हैं, जिन्‍होंने लिस्टिंग के बाद से निवेशकों को जबरदस्‍त फायदा पहुंचाया है। इन कंपनियों का रिटर्न की जाएंट्स कंपन‍ियों से ज्‍यादा देखने को मिला है जिनका मार्केट कैप में एक लाख करोड रुपए से ज्‍यादा है।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

एक्सचेंज स्‍मॉल मीडियम इंटरप्राइजेज यानी एसएमई में इक्विटी कल्‍चर लाने के लिए कई तरह के प्रयास कर रहा है। इसके लिए कई तरह के वेबिनार और राज्य सरकारों और अन्य पेशेवर संगठनों के साथ सहयोग करना। महामारी के दौरान, एक्सचेंज ने इक्विटी फाइनेंस और लिस्टिंग के लाभों पर एसएमई को शिक्षित करने के लिए 150 से अधिक वेबिनार का आयोजन किया है।

मार्च 2012 में बीएसई ने ऐसे कारोबारों के विकास और विस्तार के लिए फाइनेंस के लिए एक एसएमई प्‍लेटफॉर्म पेश किया था। तब से, 337 कंपनियों को एसएमई सेक्शन में लिस्‍ट किया गया है। जिससे 3,500 करोड़ रुपए जुटाए गए हैं। इन फर्मों का कंबाइंड मार्केट वैल्‍यू 26,300 करोड़ रुपए से ज्‍यादा है। यदि किसी निवेशक ने इन कंपनियों को लंबी अवधि में निवेश किया होता तो तो उन्हें कई गुना लाभ होता, क्योंकि कुछ इक्विटी की वैल्‍यू 1000-5000 फीसदी तक बढ़ गई हैं। आइए आपको भी इन कंपनि‍यों के बारे में जानकारी देते हैं।

आदित्य विजन : आदित्य विजन की शुरुआत 1999 में हुई थी। जिसका मार्केट 920 करोड रुपए है। निफ्टी स्मॉलकैप 100 के 36.93 फीसदी की तुलना में स्टॉक ने तीन वर्षों में 1156.01 फीसदी का रिटर्न दिया है। जब‍ इस कंपनी की लिस्‍टिंग हुई थी तो इसके आईपीओ का प्राइस 15 रुपए प्रति शेयर था। जबकि एक लॉट का साइज 8000 शेयर था। अगर किसी ने उस समय में एक लॉट में निवेश किया होता तो उसकी वैल्‍यू 1.20 लाख रुपए होती। जिसकी वैल्‍यू मौजूदा समय में 61.188 लाख हो गई होती। कंपनी ने अपनी स्थापना के बाद से अब तक 4,899 फीसदाी का रिटर्न दिया है। पिछले साल कंपनी के शेयर में 2,996 फीसदी की तेजी देखने को मिली है। । बीएसई पर एसएमई स्टॉक मौजूदा समय में 764 रुपए प्रति शेयर पर बिक रहा है।

राघव प्रो‍डक्‍ट‍िविटी इंहैंसर : राघव प्रोडक्टिविटी इंहैंसर की स्थापना 2009 में हुई थी, जिसका मार्केट कैप 808.49 करोड़ रुपए है। जोकि काफी कम है। जब इस कंपनी का आईपीओ आईपीओ आया था तो इसके शेयर की वैल्‍यू 39 रुपए थी। जबकि इसका लॉट साइज 3000 शेयर था। जिसकी वैल्‍यू 1.17 लाख रुपए थी। मौजूदा समय में इस निवेश की वैल्‍यू 22.29 लाख रुपए हो चुकी है। आज कंपनी के शेयर की कीमत 743 रुपए हो चुकी है। इसका मतलब यह है कि कंपनी ने अपनी स्थापना के बाद से 2,498 फीसदी का फायदा पहुंचाया है। पिछले साल कंपनी में 578 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

श्री गणेश रेमेडीज : श्री गणेश रेमेडीज लिमिटेड कंपनी की स्थापना 1995 में हुई थी। वर्तमान में इसका शेयर मूल्य 352.65 है। वर्तमान में इसका मार्केट कैप 352.88 करोड़ रुपए है। इसके मार्केट कैप से अंदाजा लगाया जा सकता है कि कंपनी कोई ज्‍यादा बडी नहीं है। लिस्टिंग के दौरान कंपनी के शेयर की कीमत 40 रुपए थी। जिसकी वैल्‍यू के आज के दिन 356.90 रुपए प्रति शेयर हो चुकी है। अगर इस एसएमई स्टॉक में किसी ने 1.08 लाख रुपए का निवेश किया होता तो उसकी वैल्‍यू 9.91 लाख हो गई होती। कंपनी ने अपनी स्थापना के बाद से 1,110 फीसदी का लाभ देखने को मिला है। पिछले साल कंपनी में 273 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है।