इसे कहते हैं लंबी छलांग, अडानी भी अब PSLV की दौड़ में- पुण्य प्रसून बाजपेयी ने किया ट्वीट, लोगों से मिलने लगे ऐसे जवाब

पीएसएलवी के कॉन्ट्रैक्ट की दौड़ में अडानी ग्रुप सहित तीन फर्म शामिल हुई हैं। इस बात को लेकर मशहूर पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी ने ट्वीट किया और कहा, ‘इसे कहते हैं लंबी छलांग।’

Gautam Adani, Adani Group, PSLV तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

देश में पहली बार इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन से बाहर अब निजी कंपनियां भी पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल का निर्माण कर सकेंगी। इस कॉन्ट्रैक्ट की दौड़ में तीन कंपनियां शामिल हैं, जिसमें अडानी के नेतृत्व वाले समूह के साथ-साथ लार्सन एंड टर्बो ग्रुप और एक अन्य कंपनी भी शामिल है। डीओएस के अनुसार, कॉन्ट्रैक्ट से मेक इन इंडिया पहल को तो बढ़ावा मिलेगा, साथ ही हर साल उपग्रहों को लॉन्च करने की इसरो की क्षमता को भी बढ़ाया जा सकेगा। वहीं अडानी ग्रुप को मिली इस उपलब्धि को लेकर अब मशहूर पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी ने ट्वीट किया है।

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने पीएसएलवी से जुड़ी खबर को साझा करते हुए लिखा, “इसे कहते हैं लंबी छलांग, अडानी अब पीएसएलवी की दौड़ में शामिल हैं।” मशहूर पत्रकार का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, साथ ही यूजर भी इसपर खूब कमेंट कर रहे हैं।

सुकृति नाम की यूजर ने पुण्य प्रसून बाजपेयी के ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, “क्यों न हों? आपको कोई समस्या है। आपको बैठे बैठाए हिस्सा नहीं मिला, इसलिए बुरा लगा?” ज्ञानेंद्र राणा नाम के यूजर ने लिखा, “आप क्या चाहते हैं कि एलन मस्क और ब्रॉनसन कॉन्ट्रैक्ट लें, कोई भारतीय नहीं।”

अनुराग कश्यप नाम के यूजर ने पुण्य प्रसून बाजपेयी के ट्वीट पर चुटकी लेते हुए लिखा, “यानी अब हमारे पास भी अपना ‘एलोन मस्क’ है।” एक यूजर ने पुण्य प्रसून बाजपेयी पर तंज कसते हुए लिखा, “अच्छा है ना, जेफ बेजोस और एलन मस्क ने बनाई तो तुम बड़े खुश हो रहे थे।” उदय नाम के यूजर ने लिखा, “आपके हिसाब से अडानी खुद के लिए लॉन्च करेगा और परिवार सहित अंतरिक्ष में घूमने जाएगा।”

बता दें कि पुण्य प्रसून बाजपेयी ने इससे पहले केंद्र सरकार की राष्ट्रीय मुद्रीकरण योजना को लेकर तंज कसा था। अपने एक ट्वीट में उन्होंने लिखा था, “क्या ये संभव नहीं, 2024 तक किसी कॉरपोरेट को देश चलाने के लिए दे दें।” इसके अलावा एक ट्वीट में उन्होंने लिखा था, “सत्ता ने कॉरपोरेट को लाभ पहुंचाया, कॉरपोरेट ने सत्ता को लाभ पहुंचाया। सत्ता-कॉरपोरेट की ऐसी सांठगांठ कभी नहीं देखी।”