इस कारण रविचंद्रन अश्विन की जगह रविंद्र जडेजा हैं मोईन अली की पहली पसंद, अंग्रेज ऑफ स्पिनर ने कहा- हमेशा रखूंगा अपने साथ

मोईन अली को लगता है कि इंग्लैंड ने हेडिंग्ले में जुबानी जंग से ज्यादा खेल पर ध्यान दिया और सीरीज में बराबरी हासिल की। उन्होंने कहा, ‘उम्मीद है कि भारत ने अब तक जो इंटेंसिटी दिखाई है वह सीरीज में आगे भी जारी रहेगी।’

Ravindra Jadeja Ravichandran Ashwin India vs England Moin Ali मोईन खान को लगता है कि इंग्लैंड ने हेडिंग्ले में जुबानी जंग से ज्यादा खेल पर ध्यान दिया और सीरीज में बराबरी हासिल की। (सोर्स- ट्विटर)

रविचंद्रन अश्विन के पहले तीन टेस्ट में बाहर रहने से मोईन अली थोड़े हैरान हैं। हालांकि, इंग्लैंड के इस ऑफ स्पिनर ने कहा कि अगर भारत एक ही विशेषज्ञ स्पिनर को लेकर उतरने की रणनीति पर कायम रहता है तो उनकी भी पसंद रविंद्र जडेजा ही होते। रविंद्र जडेजा को बल्लेबाजी की वजह से अश्विन पर तरजीह दी गई, लेकिन ओवल पर गुरुवार से शुरू हो रहे चौथे टेस्ट में टीम में बदलाव हो सकता है।

मोईन ने चौथे टेस्ट से पहले कहा, ‘अश्विन के अभी तक नहीं खेलने से थोड़ा हैरान हूं। लेकिन मेरा मानना है कि जडेजा अद्भुत क्रिकेटर है और दुनिया में मेरे सबसे पसंदीदा क्रिकेटर्स में से एक है।’

उन्होंने कहा, ‘मैं जडेजा को हमेशा अपनी टीम में रखता। मुझे लगता है कि लॉर्ड्स में जीतने के बाद भारत ने चार तेज गेंदबाजों को लेकर उतरने की रणनीति अपनाई और जडेजा ने शानदार प्रदर्शन किया। मुझे यकीन है कि अगले टेस्ट में अश्विन के नाम पर विचार किया जाएगा।’

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2017 में ओवल पर हैट्रिक लगाने वाले मोईन ने कहा, ‘मैं दोबारा हैट्रिक की उम्मीद नहीं कर रहा, लेकिन उम्मीद है कि पिच से स्पिन को मदद मिलेगी। यह बल्लेबाजी के लिए अच्छी विकेट है और आखिरी चरण में स्पिनर्स की मददगार होगी।’

इंग्लैंड के पूर्व पेसर ने बताया रूट को आउट करने का तरीका, लक्ष्मण ने दी अश्विन को टीम में चुनने की सलाह

लॉर्ड्स टेस्ट के जरिए दो साल बाद टेस्ट टीम में लौटे मोईन को नहीं लगता कि उनकी जगह टीम में पक्की हुई है, लेकिन उन्होंने कहा कि उपकप्तानी मिलना सम्मान की बात है। उन्होंने कहा, ‘इंग्लैंड के लिए किसी भी फॉर्मेट में कप्तानी या उपकप्तानी करना बड़ा सम्मान है। मैं काफी रोमांचित हूं।’

मोईन अली ने साल के आखिर में एशेज सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाने की इच्छा भी जताई। उन्होंने कहा, ‘मैं टीम में अपनी जगह पक्की करना चाहता हूं। दो मैच खेलने के बाद लगता है कि मैं लय में आ रहा हूं। भारत के खिलाफ अगले दो टेस्ट से उम्मीद है। इनमें अच्छे खेल से ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भी मेरी जगह बनी रह सकती है।’

मोईन को लगता है कि इंग्लैंड ने हेडिंग्ले में जुबानी जंग से ज्यादा खेल पर ध्यान दिया और सीरीज में बराबरी हासिल की। उन्होंने कहा, ‘उम्मीद है कि भारत ने अब तक जो इंटेंसिटी दिखाई है वह सीरीज में आगे भी जारी रहेगी। हेडिंग्ले में हमारा पहला दिन शानदार रहा था। इसके बाद आगे का मैच भी हमने अच्छे से खेला। हम पिछले मैच में पूरी तरह प्रदर्शन पर ध्यान दे रहे थे। आगे के मुकाबलों में ऐसा ही जारी रखेंगे।’