उदारवादी ग्रुप की अगुवाई करते हैं फुमियो किशिदा? बनेंगे जापान के अगले प्रधानमंत्री

टोक्यो. जापान में लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी को एक नया नेता मिला है. पूर्व विदेश मंत्री फुमियो किशिदा (Fumio Kishida) जापान (Japan) के अगले प्रधानमंत्री होंगे. किशिदा जापान के पूर्व विदेश मंत्री रहे हैं और वह मौजूदा पीएम योशिहिदे सुगा (Yoshihide Suga) की जगह लेंगे. सुगा एक साल बाद अपना पद छोड़ने वाले हैं. एक साल पहले सुगा को उस समय पीएम बनाया गया था, जब तत्‍कालीन प्राइम मिनिस्‍टर शिंजो आबे ने बीमारी की वजह से अपना पद छोड़ने का फैसला किया था.

सत्ताधारी लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्षता जीतने के लिए दूसरी बार प्रयास करते पूर्व विदेश मंत्री फुमियो किशिदा को एक नरम-उदारवादी राजनेता के रूप में जाना जाता है. किशिदा को पार्टी के भीतर अपने भविष्य के नेता के रूप में लंबे समय से देखा जा रहा है. यही कारण है कि उनकी दावेदारी अगले पीएम के रूप में मजबूत मानी जा रही है.

64 वर्षीय फुमियो किशिदा एलडीपी के नीति प्रमुख के रूप में कार्य कर चुके हैं. वह एक उदारवादी-झुकाव वाले गुट का नेतृत्व करते हैं, जिसमें चार पूर्व जापानी प्रधानमंत्री थे. वह 2020 की पार्टी नेतृत्व की रेस में योशीहिदे सुगा से हार गए थे, लेकिन अब इस पद के लिए उनके नाम पर मुहर लग गई है.

फुमियो किशिदा का जन्म 29 जुलाई 1957 में मिनामी-कु हिरोशिमा में एक राजनीतिक परिवार में हुआ था. उनके पिता और दादा पूर्व राजनेता थे. पूर्व प्रधान मंत्री कीची मियाज़ावा किशिदा के दूर के रिश्तेदार हैं. किशिदा ने वासेदा विश्वविद्यालय से कानून की पढ़ाई की और 1982 में ग्रेजुएट हुए. किशिदा 2012 से 2017 तक जापान के विदेश मंत्री के रूप में काम किया. वह एलडीपी की नीति अनुसंधान परिषद के अध्यक्ष भी रहे.

जापान का अगला प्रधानमंत्री बनने की दौड़ में शामिल चार उम्मीदवारों में से दो महिलाएं भी थीं. साने ताकाइची और सेको नोडा पिछले 13 साल में देश की पहली महिलाएं हैं, जिन्होंने प्रधानमंत्री पद के चुनाव में सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (एलडीपी) के नेतृत्व के लिए अपनी दावेदारी पेश की है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.