उदित नारायण-कुमार सानू की वजह से अनुराधा पौडवाल ने गाने शुरू कर दिए भजन! बोल पड़े कपिल शर्मा; सिंगर्स से मिला ऐसा रिएक्शन

अनुराधा पौडवाल ने 70-80 के दशक में अपनी सुरीली आवाज से लोगों का मन मोह लिया था। उस वक्त अनुराधा पौडवाल की लोकप्रियता इतनी बढ़ गई थी कि लोग लता मंगेशकर की जगह उन्हें देखने लगे थे।

Anuradha Podwal, Entertainment News सिंगर अनुराधा पौडवाल (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

द कपिल शर्मा शो में इस बार सिंगर उदित नारायण, कुमार सानू और अनुराधा पौडवाल नजर आने वाले हैं। शो पर कपिल शर्मा तीनों लेजेंड सिंगर्स के साथ खूब मस्ती करते दिखेंगे। कपिल शर्मा इस बीच अनुराधा पौडवाल से एक सावल करते नजर आएंगे जो कि उनके करियर से जुड़ा होगा। ऐसे में अनुराधा पौडवाल इस सवाल का जवाब भी देती दिखेंगी।

कपिल के शो से एक प्रोमो सामने आया है जिसमें वह कहते हैं- ‘उदित सर और सानू दा, इतने शरारती हैं ना इनकी शरारतों को देखते ही अनुराधा जी ने भजन गाने शुरू कर दिए थे।’ ये सुनते ही अनुराधा पौडवाल हंस पड़ती हैं। तो वहीं उदित नारायण मस्ती भरे अंदाज में ठहाका लगाना शुरू कर देते हैं।

इसके बाद कपिल अनुराधा पौडवाल से सवाल करते हैं- ‘अनुराधा जी, आपने कुमार सानू जी के साथ और उदित जी के साथ काफी गाने गाए हैं। इन दोनों में से ज्यादा शरारती कौन है?’ इस पर अनुराधा बताती हैं कि ‘उदित नारायण ज्यादा शरारती हैं।’

बताते चलें, अनुराधा पौडवाल ने 70-80 के दशक में अपनी सुरीली आवाज से लोगों का मन मोह लिया था। उस वक्त अनुराधा पौडवाल की लोकप्रियता इतनी बढ़ गई थी कि लोग लता मंगेशकर की जगह उन्हें देखने लगे थे। लेकिन तभी अचानक ही उन्होंने हिंदी फिल्मों में गाना बंद कर दिया। वहीं सिंगर भजन गायकी की तरह मुड़ गईं।

1976 में आई फिल्म कालीचरण से अनुराधा पौडवाल ने अपने प्लेबैक सिंगिंग करियर की शुरुआत की थी। शशि कपूर और हेमा मालिनी की फिल्म ‘आप बीती’ में उन्होंने अपना पहला सोलो सॉन्ग गाया था।

70 के दशक में लता मंगेशकर की गायकी का दबदबा था। लता मंगेशकर जो भी गाना गाती थीं वो सुपरहिट हो जाता था। वहीं दूसरी तरफ अनुराधा पौडवाल थीं जो अपने करियर की शुरुआत कर रही थीं। लता मंगेशकर अनुराधा पौडवाल के लिए एक बहुत बड़ा चैलेंज थीं, कि वह अपनी जगह इंडस्ट्री में कैसे बनाएं? ये राह आसान नहीं थी। लेकिन जब मशहूर संगीतकार ओपी नैय्यर ने अनुराधा पौडवाल को सुना तो वो उनकी आवाज सुनकर दंग रह गए थे। उन्होंने तब कहा था कि अब लता मंगेशकर का जमाना गया। अनुराधा पौडवाल ने उन्हें रिप्लेस कर दिया है।