एक्सीडेंट के बाद ‘क्लिनिकली डेड’ हो गए थे अमिताभ बच्चन, डॉक्टर ने भी छोड़ दी उम्मीद; ऐसे मौत के मुंह से आए थे बाहर

‘कुली’ के सेट पर हुए हादसे के बाद अमिताभ बच्चन की हालत काफी गंभीर भी हो गई थी। उन्हें क्लिनिकली डेड भी घोषित कर दिया गया था।

amitabh bachchan, amitabh bachchabn news

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने अपनी एक्टिंग ने न केवल भारत बल्कि विदेशों में भी अपनी जबरदस्त पहचान बनाई है। उन्हें फिल्मी दुनिया में योगदान देने के लिए दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है। बिग बी के बारे में इस बात से हर कोई अवगत है कि फिल्म कुली के सेट पर उनके साथ हादसा हो गया था, जिससे अमिताभ बच्चन की हालत काफी गंभीर भी हो गई थी। लेकिन एक्सीडेंट के बाद अमिताभ बच्चन की हालत इतनी ज्यादा खराब हो गई थी कि डॉक्टर ने भी उनके बचने की उम्मीद छोड़ दी थी। इतना ही नहीं, उन्हें क्लिनिकली डेड भी घोषित कर दिया गया था।

अमिताभ बच्चन से जुड़ी इस बात का खुलासा बीबीसी हिंदी की रिपोर्ट में किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, अमिताभ बच्चन को एक्सीडेंट के बाद करीब 60 यूनिट खून चढ़ाया गया था, लेकिन अमिताभ बच्चन की स्थिति बेहतर होने का नाम नहीं ले रही थी। वहीं, डॉक्टर के भी लगातार प्रयासों के बाद भी दो अगस्त को अमिताभ बच्चन का ब्लड प्रेशन और पल्स जीरो हो गया था।

डॉक्टर ने छोड़ दी थी उम्मीद: अमिताभ बच्चन की हॉस्पिटल में बिगड़ती हालत को देखते हुए डॉक्टर ने उम्मीद छोड़ दी थी। हैरान करने वाली बात तो यह है कि डॉक्टर ने उनकी पत्नी और एक्ट्रेस जया बच्चन से भी कह दिया था, “अब कोई उम्मीद नहीं है। आखिरी बार अमिताभ को आप जाकर देख लो।” रिपोर्ट के मुताबिक देखते ही देखते अमिताभ बच्चन क्लिनिकली डेड हो गए थे।

आखिरी उम्मीद के तौर पर लगाया गया था इंजेक्शन: अमिताभ बच्चन की ऐसी हालत को देख हॉस्पिटल व उसके बाहर कोहराम मच गया। हालांकि, बिग बी ने मौत को भी मात देने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। दरअसल, आखिरी वक्त पर भी डॉक्टर उड़वाडिया ने एक आखिरी उम्मीद के रूप में एक दवाई के ओवरडोज के तौर पर बिग बीग को इंजेक्शन देने शुरू किये।

11 मिनट बाद आया था होश: इंजेक्शन लगने के कुछ समय बाद जया बच्चन ने देखा कि अमिताभ बच्चन के पैर के अंगूठे में कुछ हरकतें हुईं। यह देख वह खुशी से चिल्ला पड़ी थीं। इतना ही नहीं, वहां मौजूद पूरी डॉक्टर टीम भी जोश में आ गई थी। वहीं, अमिताभ बच्चन को होश में लाने के लिए सभी जोर-जोर से चिल्लाने लगे थे।

बिग बी को सलामत देख फैली खुशी की लहर: इलाज के दौरान ही अमिताभ बच्चन ने आंखें खोल दीं और सभी को हैरानी की नजर से देखने लगे। अमिताभ बच्चन को सलामत देख वहां मौजूद लोगों के रोते हुए चेहरे भी खिल उठे थे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अमिताभ बच्चन करीब 11 मिनट के लिए क्लिनिकली डेड हो गए थे, लेकिन उसके बाद ही एक्टर की सांसें फिर से लौट आई थीं।