एक साल में भाजपा को मिला सबसे ज्यादा चंदा, कांग्रेस बोली- लाखों की नौकरी गई, इनके खजाने में पैसों की कमी नहीं

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा को मिलने वाले चंदे में बढ़ोतरी से जुड़ी रिपोर्ट को लेकर निशाना साधा और सवाल किया कि भाजपा की आय 50 प्रतिशत बढ़ गई, लेकिन क्या जनता की आमदनी बढ़ी। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘भाजपा की आय 50 प्रतिशत तक बढ़ गई। और आपकी?’

BJP, Congress, ADR, Rahul Gandh एडीआर की रिपोर्ट में खुलासा, एक साल में भाजपा को मिला सबसे ज्यादा चंदा (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

एडीआर की तरफ से जारी रिपोर्ट के अनुसार पिछले एक साल में भारतीय जनता पार्टी को सबसे अधिक चंदा प्राप्त हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि विभिन्न राजनीतिक दलों ने 2019-20 में 3,429.56 करोड़ रूपये के चुनावी बांड भुनाये हैं जिसमें चार दलों… भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को 87.29 प्रतिशत राशि प्राप्त हुई है। कांग्रेस पार्टी ने रिपोर्ट के आधार पर बीजेपी पर हमला बोला है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2019-20 में भाजपा ने 3623.28 करोड़ रूपये के कुल आय की घोषणा की लेकिन पार्टी ने 45.57 प्रतिशत अर्थात 1651.02 करोड़ रूपये ही खर्च किया। इसमें कहा गया है कि कांग्रेस पार्टी इस वित्त वर्ष में कुल आय 682.21 करोड़ रूपये रहा और उसने 998.15 करोड़ रूपये खर्च किए । इस तरह से कांग्रेस पार्टी ने आय से 46.31 प्रतिशत अधिक खर्च किया। तृणमूल कांग्रेस ने वित्त वर्ष 2019-20 में 143.67 करोड़ रूपये आय अर्जित की और 107.27 करोड़ रूपये खर्च किये जो कुल आय का 74.67 प्रतिशत है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा को मिलने वाले चंदे में बढ़ोतरी से जुड़ी रिपोर्ट को लेकर निशाना साधा और सवाल किया कि भाजपा की आय 50 प्रतिशत बढ़ गई, लेकिन क्या जनता की आमदनी बढ़ी। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘भाजपा की आय 50 प्रतिशत तक बढ़ गई। और आपकी?’

एडीआर की नयी रिपोर्ट के अनुसार, ‘‘ एडीआर द्वारा सूचना का अधिकार के तहत दायर आवेदन के जवाब में साझा किये गए एसबीआई के आंकड़े के अनुसार विभिन्न राजनीतिक दलों ने 2019-20 में 3,429.56 करोड़ रूपये के चुनावी बांड भुनाये हैं जिसमें चार राष्ट्रीय दलों…भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) को 87.29 प्रतिशत राशि प्राप्त हुई है।’’ एडीआर के अनुसार, ‘‘वित्त वर्ष 2019-20 में राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय दलों ने 3441.32 करोड़ रूपये का चुनावी बांड घोषित किया ।

राजनीतिक दलों द्वारा घोषित चुनावी बांड और भुनाये गए बांड में अंतर इन दलों द्वारा आडिट रिपोर्ट की सूचना देने के तौर तरीकों के कारण हो सकता है।’’ एडीआर ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सात राजनीतिक दलों भाजपा, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, राकांपा, बसपा, भाकपा, माकपा ने पूरे भारत से आय के रूप में 4758.20 करोड़ रूपये की आय अर्जित की। रिपोर्ट में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2019-20 में चार राजनीतिक दलों भाजपा, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और राकांपा ने अपनी कुल आय में चुनावी बांड के जरिये दान के रूप में 62.92 प्रतिशत राशि अर्थात 2993.82 करोड़ रूपये प्राप्त किये। भाजपा ने चुनावी बांड के जरिये दान के रूप में 2555 करोड़ रूपये, कांग्रेस ने 317.86 करोड़ रूपये, तृणमूल कांग्रेस ने 100.46 करोड़ रूपये तथा राकांपा ने 20.50 करोड़ रूपये प्राप्त किये ।