एक साल से नहीं मिल रहे जेएनयू और बीएचयू के नए कुलपति, मंत्रालय ने दोबारा मांगे आवेदन

बीएचयू और जेएनयू जैसे विश्वविद्यालयों के लिए कुलपति के चयन की प्रक्रिया एक साल पहले ही शुरू हो गई थी लेकिन अब तक इन शिक्षण संस्थानों को नया वीसी नहीं मिल पाया है। सरकार ने इन पदों के लिए एक बार फिर आवेदन मंगाए हैं।

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली। (एक्सप्रेस आर्काइव)

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्याल (जेएनयू) और बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (बीएचयू) जैसे बड़े शिक्षण संस्थानों में अगले कुलपति की नियुक्ति के लिए एक साल पहले ही प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी। सरकार के मुताबिक अब तक ‘योग्य व्यक्ति’ नहीं मिल पाया है। शिक्षा मंत्रालय ने दोबारा इन पदों के लिए विज्ञापन जारी किया है। मंत्रालय का कहना है कि ज्यादा आवेदन आने से योग्य उम्मीदवार का चयन होगा।

शनिवार को जेएनयू के वीसी के लिए दोबारा विज्ञापन जारी किया गया। आवेदन 11 अक्टूबर तक स्वीकार किए जाएंगे। वहीं बीएचयू के लिए आवेदन 15 सितंबर से 24 सितंबर के बीच मांगे गए हैं। जेएनयू के मौजूदा कुलपति जगदीश कुमार का कार्यकाल 26 जनवरी को ही खत्म हो गया था लेकिन मंत्रालय ने उनका कार्यकाल बढ़ा दिया। जब तक नए वीसी का चयन नहीं हो जाता, जगदीश कुमार ही जेएनयू के वीसी रहेंगे।