एमपी में शब्द युद्ध: शिवराज के मंत्री विश्वास सारंग ने दिग्विजय सिंह को कहा पाकिस्तान का स्लीपर सेल

सारंग का कहना है कि दिग्विजय सिंह हर समय पाकिस्तान परस्ती की बातें क्यों करते हैं? क्या वह पाकिस्तान के स्लीपर सेल हैं? क्या वे आईएसआई एजेंट के तौर पर काम कर रहे हैं?

Word war in MP, CM Shivraj singh, Vishwas Sarang, Digvijay Singh, Pakistan sleeper cell एमपी के मंत्री विश्वास सारंग ने दिग्विजय सिंह को पाकिस्तान का स्लीपर सेल कहा। (फोटोः स्क्रीनशॉट ट्विटर वीडियो)

उज्जैन मामले के बाद एमपी में शब्द युद्ध शुरू हो गया है। शिवराज सिंह चौहान के मंत्री विश्वास सारंग ने पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह को पाकिस्तान का स्लीपर सेल करार दे दिया है। इससे पहले गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी कांग्रेस के राज्यसभा सांसद को इस मामले में जमकर खरी खोटी सुना चुके हैं।

सारंग का कहना है कि दिग्विजय सिंह हर समय पाकिस्तान परस्ती की बातें क्यों करते हैं? क्या वह पाकिस्तान के स्लीपर सेल हैं? क्या वे आईएसआई एजेंट के तौर पर काम कर रहे हैं? जब भी देशद्रोहियों पर कार्रवाई होती है, उनके पेट में दर्द हो जाता है। उन्होंने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट कर ये बात कही। बकौल सारंग, दिग्विजय पर देशद्रोह का मुकदमा होना चाहिए।

ध्यान रहे कि उज्जैन की गीता कॉलोनी में मुहर्रम के एक कार्यक्रम के दौरान 19 अगस्त को पाकिस्तान समर्थक नारे लगाने के आरोप में चार लोगों के खिलाफ NSA लगाया गया है। पुलिस ने इस मामले में 16 लोगों की पहचान की है। पुलिस ने एक दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

उधर, दिग्विजय सिंह ने कहा कि उज्जैन में जिन लोगों के खिलाफ NSA के तहत मामला दर्ज किया गया है, दरअसल ये लोग काजी साहब जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे न कि पाकिस्तान जिंदाबाद। राज्यसभा सदस्य ने कहा कि पुलिस को कार्रवाई करने के पूर्व वास्तविकता का पता लगा लेना चाहिए। गिरफ्तारी हुई है तो मामला वापस लिया जाना चाहिए।

सूबे के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने पलटवार करते हुए ट्वीट किया- दिग्विजय सिंह अपनी तुष्टिकरण की सियासत के लिए देश विरोधी लोगों के पक्ष में खड़े होते आए हैं। उनको ऐसे लोगों का नेतृत्व कर पाकिस्तान ले जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में तालिबानी सोच वालों को बख्शा नहीं जाएगा। उज्जैन मामले की नए सिरे से जांच नहीं कराई जाएगी।