एशिया कप: अपनी ही गलतियों से हारा PAK, पहले कैच छोड़े… फिर टिक नहीं पाए बल्लेबाज

पाकिस्तान को एशिया कप 2022 के फाइनल मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है. रविवार (11 सितंबर) को दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में श्रीलंका ने पाकिस्तान को 23 रनों से मात दी. श्रीलंका ने जहां छठी बार एशिया कप खिताब पर कब्जा जमाया है. वहीं पाकिस्तान टीम तीसरी बार ट्रॉफी जीतने में कामयाब नहीं हो सकी.

पाकिस्तान टीम ने मुकाबले में दमदार आगाज किया था और 58 रनों पर ही श्रीलंकाई टीम के पांच विकेट चटका दिए थे. यहां से श्रीलंका पर बाबर ब्रिगेड दबाव बना सकती थी, लेकिन हुआ इसके विपरीत. भानुका राजपक्षे और वानिंदु हसारंगा ने काउंटर अटैक करना शुरू कर दिया. पाकिस्तान टीम के गेंदबाजों के पास इसका कोई तोड़ नहीं था और श्रीलंका ने एक बढ़िया स्कोर खड़ा कर लिया. इस दौरान पाकिस्तानी फील्डर्स ने भी श्रीलंकाई बल्लेबाजों को रन बनाने में काफी सहयोग किया.

खराब फील्डिंग ने कराई किरकिरी

इसी कड़ी में शादाब खान ने पारी के 18वें एवं 19वें ओवर में भानुका राजपक्षे (नाबाद 71 रन) का कैच छोड़ा. वहीं कुछ मौकों पर पाकिस्तानी प्लेयर्स से मिसफील्ड भी देखनो को मिला.अगर राजपक्षे का कैच लपक लिया होता तो मुकाबले में पाकिस्तान को 20-25 रन कम बनाने पड़ते. देखा जाए तो पाकिस्तानी फील्डिंग की काफी सालों से आलोचना की जाती रही है. ऐसे में फाइनल मैच में खराब प्रदर्शन के बाद एक बार फिर फील्डिंग को लेकर पाकिस्तानी खिलाड़ी आलोंचकों के निशाने पर आ चुके हैं.

क्लिक करें- फाइनल में घबरा गया पाकिस्तान, 45 रन के भीतर गंवा दिए 7 विकेट, ऐसे चैम्पियन बना श्रीलंका

फिर खराब बैटिंग ने डुबोई लुटिया

पाकिस्तान को जीत के लिए जब 171 रनों का टारगेट मिला था तो मुकाबला बराबर की लग रहा था. वैसे पाकिस्तान के पास थोड़ा एडवांटेज आ चुका था क्योंकि दुबई के मैदान पर दूसरी बॉलिंग करना मुश्किल था. पाकिस्तानी फैन्स टीम की जीत की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन बल्लेबाजों ने उनकी उम्मीदें तोड़ दीं. पहले बाबर आजम (5) और फखर जमां (0) लगातार बॉल पर चलते बने जिसके चलते टीम दबाव में आ गई. हालांकि दो झटके लगने के बाद पाकिस्तान को मोहम्मद रिजवान (55) और इफ्तिकार अहमद (32) ने 71 रनों साझेदारी कर पाकिस्तान को मुकाबले में मजबूती से ला खड़ा कर दिया था.

क्लिक करें- भारतीय फैन्स के साथ बदसलूकी, नहीं देखने दिया फाइनल, धक्के देकर निकाला

इफ्तिखार अहमद के आउट होने के बाद पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने ‘तू चल मैं आया’ वाली कहावत को चरितार्थ करने में जुट गए, नतीजतन 147 रनों पर पूरी पाकिस्तानी टीम ही ऑलआउट हो गई. पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने इस कदर सरेंडर किया कि वानिंदु हसारंगा ने एक ओवर में तीन-तीन विकेट झटक लिए. मोहम्मद नवाज (6). खुशदिल शाह (2), आसिफ अली (0) और शादाब खान (8) ने खराब शॉट खेलकर श्रीलंका की जीत को आसान बनाने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ा. पाकिस्तान की शर्मनाक हार का अंदाजा आप इस बता से लगा सकते हैं कि उसने 47 रनों के भीतर आखिरी पांच विकेट गंवाए.