कर्नाटक में नई कोविड गाइडलाइन जारी, पहला ओमिक्रोन संक्रमित मरीज हुआ देश से फरार! दिल्ली में भी 12 संदिग्ध मरीज

कर्नाटक में ओमिक्रोन के दो मामले सामने आने पर राज्य में नई कोविड गाइडलाइन लागू कर दी गई है। वहीं दिल्ली में भी 12 संदिग्ध मरीज मिले हैं।

covid new variant, omicron karnataka कर्नाटक से ओमिक्रोन का पहला मरीज फरार (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के मामले मिलने के बाद कर्नाटक सरकार ने नई गाइडलाइड जारी कर दी है। इसी राज्य में दो ओमिक्रोन संक्रमण के मामले सामने आए हैं। हालांकि सरकार की ओर से मिली जानकारी के अनुसार पहला मरीज देश छोड़कर भी फरार हो गया। वहीं दिल्ली में इस वैरिएंट के 12 संदिग्ध मरीज मिले हैं।

गाइडलाइन– कर्नाटक में ओमिक्रोन वायरस के दो मामले मिलने के बाद शुक्रवार को सीएम मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के नेतृत्व में एक हाईलेवल मीटिंग हुई। जिसमें कोरोना से बचाव के लिए नई गाइडलाइन पर फैसला लिया गया है। इस गाइडलाइन को सरकार ने लागू भी कर दिया है। नई गाइडलाइन के अनुसार राज्य में पूरी तरह से वैक्सीनेट लोग ही मॉल्स और थिएटरों में जा सकते हैं। इसके अलावा किसी भी समारोह में 500 से अधिक व्यक्ति शामिल नहीं हो सकते हैं।

कर्नाटक सरकार ने छात्रों से स्कूलों में ऑफलाइन कक्षाओं में तभी भाग लेने को कहा है, जब उनके माता-पिता टीके के दोनों डोज ले चुके हों। इसके साथ ही स्कूलों और कॉलेजों को अगले साल जनवरी तक सभी सांस्कृतिक गतिविधियों को स्थगित करने के लिए कहा गया है।

पहली ओमिक्रोन संक्रमित फरार- कर्नाटक सरकार ने शुक्रवार को जानकारी दी है कि पहला ओमिक्रोन से संक्रमित व्यक्ति देश छोड़कर फरार हो गया। यह व्यक्ति साउथ अफ्रीका से बेंगलुरु 20 नवंबर को पहुंचा था। जिसके बाद उसका यहां कोरोना टेस्ट किया गया था। जिसमें उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इस दौरान वह एक होटल में रह रहा था।

संक्रमित शख्स को देखने के लिए एक डॉक्टर भी गए थे और उन्होंने उसे क्वारंटाइन रहने की सलाह दी थी। इसके बाद 22 नवंबर को टेस्ट के लिए नमूने एकत्र किए गए और बीईएमपी के माध्यम से जीनोमिक अनुक्रमण के लिए भेजे गए। 23 नवंबर को शख्स खुद एक प्राइवेट लैब में गया और वहां से उसे निगेटिव रिपोर्ट मिल गई। इसके बाद वो 27 तारीख की रात को चुपचाप निकला और एयरपोर्ट से दुबई की फ्लाइट पकड़ कर फरार हो गया। इस मामले में राज्य सरकार ने एक शिकायत भी दर्ज करवाई है।

दिल्ली में 12 संदिग्ध- पिछले तीन दिनों में विदेश से आने के बाद 12 संदिग्ध मरीजों को दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनके नमूने जीनोम परीक्षण के लिए भेजे गए हैं ताकि यह पुष्टि की जा सके कि वे ओमिक्रोन से संक्रमित हैं या नहीं? सभी दिल्ली के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल में भर्ती हैं। आठ व्यक्तियों को गुरुवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। चार और लोगों को शुक्रवार को भर्ती कराया गया। ये सभी ओमिक्रोन के संदिग्ध मरीज हैं।

वहीं जयपुर में एक ही परिवार के नौ सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से चार सदस्य दक्षिण अफ्रीका से लौटे हैं। इन्हें राजस्थान के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है और सभी नौ लोगों के नमूने जीनोम सीक्वेंस के लिए जयपुर के सवाई मान सिंह अस्पताल भेजे गए हैं।