कांग्रेस के राज्य में किसान पिटें तो प्रियंका वाड्रा को फर्क नहीं पड़ता? लाइव डिबेट में पत्रकार सुशांत सिन्हा और कांग्रेस नेता के बीच तीखी बहस

पत्रकार सुशांत सिन्हा और कांग्रेस नेता के बीच तीखी बहस देखने को मिली। इस दौरान पत्रकार सुशांत सिन्हा ने कांग्रेस नेता से पूछा कि राजस्थान में भी पुलिस ने लाठीचार्ज किया है किसानों पर.

Navbharat, Hindi Journalist Sushant Sinha, Priyanka Vadra, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लखीमपुर के लिए रवाना हुई थीं (फोटो सोर्स- अशोक पंडित ट्वीट)

लखीमपुर घटना के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लखीमपुर के लिए निकली थीं जिसके बाद उन्हें पुलिस ने रास्ते में ही रोक लिया गया। अब प्रियंका गांधी को पुलिस हिरासत में 28 घंटे से ज्यादा का समय हो गया है। इस मुद्दे पर टाइम्स नाऊ की लाइव डिबेट में पत्रकार सुशांत सिन्हा और कांग्रेस नेता रत्नाकर त्रिपाठी के बीच तीखी बहस देखने को मिली। इस दौरान पत्रकार सुशांत सिन्हा ने कांग्रेस नेता से पूछा कि राजस्थान में भी पुलिस ने लाठीचार्ज किया है किसानों पर..तो प्रियंका गांधी वहां नहीं गईं? इस पर रत्नाकर त्रिपाठी का जवाब आया कि ‘पुलिस ने जान नहीं ना ले ली।’

पत्रकार सुशांत सिन्हा ने इस वीडियो को पोस्ट कर कैप्शन में लिखा- ‘कांग्रेस प्रवक्ता से पूछा गया कि राजस्थान में पुलिस ने आज किसानों पर लाठियां बरसाई हैं, तो प्रियंका वाड्रा वहां कब जाएंगीं? ऐसे में जवाब मिला कि ‘पुलिस ने जान नहीं ना ले ली।’ मतलब किसान को राजस्थान पुलिस ने अभी जान से नहीं मारा है यह भी एहसान टाइप है। जान जाएगी तब प्रियंका जी जाएंगीं’।

ड्बेट के दौरान एंकर ने कांग्रेस नेता से सवाल पूछा- ‘रत्नाकर त्रिपाठी जी कब जा रही हैं प्रियंका गांधी राजस्थान? किसानों के हक की आवाज उठाने? इस प्रश्न के जवाब में नेता बोले- अरे हमारी सरकार है, जाए भाजपा वहां पर। ऐसे में सुशांत सिन्हा ने पूछा- अच्छा कांग्रेस के राज्य में अगर किसानों को मारे पुलिस तो प्रियंका वाड्रा को फर्त नहीं पड़ता? भाजपा जाए वहां पर?

ऐसे में कांग्रेस नेता कहते हैं- कांग्रेस के राज्य में अगर किसान मारे जा रहे हैं तो आंदोलन करना चाहिए। पुलिस ने जान नहीं न ले ली। इस बात को सुन कर सुशांत सिन्हा कहते हैं- ओह तो जब जान जाएगी तब प्रियंका गांधी जाएंगी। यहां भी पुलिस ने जान नहीं ली है।’

गौरतलब है कि लखनऊ से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी रविवार रात कार से सीतापुर के रास्ते लखीमपुर के लिए रवाना हुई थीं। इस दौरान प्रियंका गांधी पुलिस को चकमा देकर कार की पीछे वाली सीट के नीचे छिपकर जा रही थीं। जब गाड़ी हरगांव चेकपोस्ट से गुजरी तब चेकिंग के दौरान प्रियंका गांधी पर पुलिस की नजर पड़ी, उस वक्त प्रियंका सीट के नीचे छिपी हुई थीं।