काजी के जनाज़े में जाने वालों पर भड़कीं स्वरा भास्कर, कहा- जाहिल, बेशर्म

स्वरा भास्कर ने काजी के जनाजे में शामिल लोगों की जाहिल और बेशर्म कहा है। जनाजे में शामिल हजारों की भीड़ को लेकर उन्होंने कहा कि देश में बेवकूफों की कोई कमी नहीं है

swara bhaskar, covid 19, covid up

उत्तर प्रदेश के बदायूं में सोमवार को जिले के काज़ी हजरत सालिमुल कादरी के जनाजे में लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। जनाजे में शामिल लोगों ने सामाजिक दूरी और कोविड गाइडलाइंस की जमकर धज्जियां उड़ाई। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ तो पुलिस ने करवाई करते हुए मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस मुद्दे पर बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने अपनी टिप्पणी की है और जनाजे में शामिल लोगों की जाहिल और बेशर्म कहा है। स्वरा भास्कर ने एक ट्वीट रीट्वीट किया जिसमें हजारों की संख्या में लोग दिख रहे हैं।

स्वरा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘इस देश में बेवकूफों की कमी ही नहीं है। बेशर्म जाहिल लोग!’ स्वरा भास्कर के इस ट्वीट पर यूजर्स भी की खूब प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। अनुराग नाम से एक ट्विटर यूजर ने लिखा, ‘इस देश में कंपटीशन चल रहा है। कंपटीशन बेवकूफी का.. हिंदू एक गलती करेगा तो हम भी गलती करेंगे।’

शाहरुख सिद्दीकी नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘ये बिलकुल गलत है, लोगों को इस तरह के जमावड़े की आलोचना करनी चाहिए, चाहे वो हिंदू करें या मुस्लिम। इन्हीं में से कई लोग इसलिए मर रहे हैं क्योंकि लॉकडाउन के कारण उनके पास खाने के लिए पैसे नहीं हैं। सरकार को इस स्थिति से निकलने में मदद कीजिए।’

स्वरा भास्कर के इस ट्वीट पर कुछ यूजर्स उन्हें ट्रोल भी कर रहे हैं। दिव्य पुरोहित नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘अरे आज क्या खा ली हैं आप। ये ट्वीट कौन कर रहा है? आपने ही किया है या आपके नाम से किसी ने कर दिया है?’

कृति नाम की एक यूजर ने स्वरा भास्कर को जवाब दिया, ‘मैं इस पर कम से कम एक पैराग्राफ की उम्मीद कर रही थी।’ यूजर के इस टिप्पणी पर जवाब देते हुए अनिमेष ने लिखा, ‘नहीं लिखती तो प्रॉब्लम, लिख दिया तो पूरा पैराग्राफ क्यों नहीं लिखा। स्वरा भास्कर से भक्त पीएम मोदी से भी ज्यादा जिम्मेदारी की उम्मीद करते हैं।’

इसी बीच स्वरा भास्कर ने इजराइल और फलस्तीन विवाद पर कई ट्वीट्स किए जिसे लेकर लोगों ने उन्हें खूब ट्रोल किया। वो ट्विटर पर ट्रेंड भी करने लगी थीं। स्वरा ने अपने एक ट्वीट में लिखा था, ‘इसराइल रंगभेद वाला देश है। इसराइल एक आतंकवादी राष्ट्र है।’ आपको बता दें कि पिछले कई दिनों से यरुशलम में इजराइली और फलस्तीनियों के बीच झड़प जारी है जिसमें अब तक 200 फलस्तीनी और 20 इजराइली पुलिसकर्मी घायल हुए हैं।