किसानों के सामने झुकी सरकार को राहुल गांधी की नसीहत, बोले- अब चीनी घुसपैठ के सच को भी करे स्वीकार, राजनाथ ने फिर दिखाए तीखे तेवर

राहुल ने हिंदी में ट्वीट करके चीन को लेकर सरकार पर निशाना साधा। उनका कहना था कि पूर्वी लद्दाख को लेकर सरकार स्थिति स्पष्ट करे। कांग्रेस नेता लगातार बोल रहे हैं कि चीन ने बीते साल हुई झड़प के बाद भारत के काफी हिस्से पर कब्जा जमा लिया है।

India, China, Border Clash भारत और चीनी सेनाओं के बीच पिछले साल जून में गलवान घाटी में हुई थी खूनी झड़प। (प्रतीकात्मक फोटो- IE)

किसानों के सामने झुकी सरकार पर राहुल गांधी ने करारा हमला बोला है। कांग्रेस नेता ने कहा है कि अब भारत की धरती पर चीनी घुसपैठ के सच को भी सरकार स्वीकार करे। उधर, राजनाथ सिंह ने चीन, पाकिस्तान को फिर से चेतावनी देते हुए कहा कि अगर हमारी धरती पर नजर डाली तो परिणाम भुगतने होंगे। भारत किसी को भी करारा जवाब देने को तैयार है।

राहुल ने हिंदी में ट्वीट करके चीन को लेकर सरकार पर निशाना साधा। उनका कहना था कि पूर्वी लद्दाख को लेकर सरकार स्थिति स्पष्ट करे। कांग्रेस नेता लगातार बोल रहे हैं कि चीन ने बीते साल हुई झड़प के बाद भारत के काफी हिस्से पर कब्जा जमा लिया है।

अमेरिकी रक्षा विभाग की रिपोर्ट के बाद कांग्रेस के तेवर और ज्यादा तीखे हुए हैं। हालांकि सरकार चीन के साथ 14 दौर की बात कर चुकी है लेकिन अभी तक आधिकारिक तौर पर लद्दाख को लेकर सरकार स्थिति स्पष्ट नहीं कर रही।

राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि भारत अपने पड़ोसियों के साथ अच्छे रिश्ते चाहता है, लेकिन चेतावनी दी कि अगर किसी देश ने उसकी एक ईंच जमीन भी हड़पने की कोशिश की तो उसे करारा जवाब मिलेगा। वह उत्तराखंड में ‘शहीद सम्मान यात्रा’ के दूसरे चरण की शुरुआत करने पहुंचे थे।

उन्होंने कहा- हम अपने पड़ोसियों के साथ अच्छा संबंध चाहते हैं। भारत ने कभी किसी देश पर हमला नहीं किया, न ही इसने किसी विदेशी भूमि पर कब्जा किया है। पड़ोसियों के साथ अच्छे संबंध भारत की संस्कृति रही है, लेकिन कुछ लोग इसे नहीं समझते हैं।

पाकिस्तान का नाम लेते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि वह आतंकवादी गतिविधियों के माध्यम से भारत को अस्थिर करने का प्रयास करता रहता है और उसे कड़ा संदेश दे दिया गया है। उन्होंने कहा- हमने पश्चिमी सीमा पर अपने पड़ोसी को स्पष्ट संदेश दिया है कि अगर उसने सीमा लांघी तो हम न केवल सीमाओं पर पलटवार करेंगे, बल्कि उसके क्षेत्र में भी घुस जाएंगे और सर्जिकल एवं हवाई हमले करेंगे।

रक्षा मंत्री ने चीन का नाम लिए बगैर कहा कि हमारा एक और पड़ोसी है, जो लगता है चीजों को नहीं समझता है। उन्होंने कहा कि 1971 में भारत की जीत के बारे में हर कोई जानता है। राजनाथ सिंह ने भारत के पड़ोसियों को चेतावनी दी कि वे किसी भ्रम में नहीं रहें।