‘कुछ भी करने का लेकिन ईगो हर्ट नहीं करने का,’ स्मृति मंधाना की ‘धमकी’ पर जेमिमा रोड्रिग्ज ने ऐसा दिया था जवाब; देखें Video

स्मृति मंधाना भारत ही दुनिया की स्टार महिला क्रिकेटर्स में से एक हैं। वह सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहती हैं। उनकी टीम साथी जेमिमाह रोड्रिग्ज के साथ भी काफी अच्छी बॉन्डिंग है। दोनों ही सोशल मीडिया पर फैंस के लिए कई शो लेकर आ चुके हैं।

smriti mandhana jemimah rodrigues Challenge Indian Cricketer Women Cricket स्मृति मंधाना और जेमिमाह रोड्रिग्ज दोनों ही गेंदबाजों की बखिया उधेड़ने के साथ-साथ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने में भी माहिर हैं। (सोर्स- smriti_mandhana.fanpage)

स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) भारत ही दुनिया की स्टार महिला क्रिकेटर्स में से एक हैं। वह सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहती हैं। उनकी टीम साथी जेमिमाह रोड्रिग्ज के साथ भी काफी अच्छी बॉन्डिंग है। दोनों ही सोशल मीडिया पर फैंस के लिए कई शो लेकर आ चुके हैं।

हाल ही में स्मृति मंधाना का इंस्टाग्राम पर एक रील वायल हो रही है। इस इंस्टाग्राम रील में स्मृति मंधाना क्रिकेट के शॉट को लेकर अपने और जेमिमाह के बीच नोकझोंक के बारे में चर्चा कर रही हैं। यह वीडियो क्लिप विक्रम साठे के शो ‘वॉट द डक’ (What The Duck) की है। उस शो में स्मृति मंधाना के साथ हरमनप्रीत कौर भी मौजूद थीं।

शो के दौरान विक्रम साठे ने स्मृति मंधाना से पूछा, ‘जेमिमाह के साथ बैटिंग करने में मजा आता है?’ मंधाना ने कहा, ‘बहुत मजा आता है, लेकिन मैच के दौरान वह बहुत ज्यादा सीरियस रहती है। मैं बैटिंग करते हुए अपना ध्यान डायवर्ट करती हूं। जब स्ट्राइक लेती हूं, तब फोकस करने की कोशिश करती हूं। लेकिन इन दोनों (हरमनप्रीत कौर और जेमिमाह रोड्रिग्ज) के साथ मुझे अपना गियर बदलना पड़ता है।’

मंधाना ने कहा, ‘जेमिमाह भी अपने में ही रहती है।’ विक्रम ने बीच में टोकते हुए कहा, ‘लेकिन आप लोग एक दूसरे को चैलेंज देते रहते हो। ऐसा कोई चैलेंज बताइए।’ इस पर मंधाना ने कहा, ‘एक बार हम न्यूजीलैंड में टी20 सीरीज खेलने गए थे। मैच के पहले की रात को हम डिनर कर रहे थे। डिनर के दौरान उसने मुझसे कई बार बोला कि तुझे स्वीप मारना नहीं आता।’

मंधाना ने बताया, ‘मैंने उससे बोला हां नहीं आता। सीखू लूंगी कभी। फिर मैंने उससे कहा कि तुझे पुल मारना आता है। तू भी तो पुल नहीं मार पाती है।’ मंधाना ने कहा, ‘अगले दिन मैच के दौरान मैंने स्वीप शॉट लगाया। ऑफ स्पिनर थी, मैंने उसको स्वीप कर छक्का लगाया। दूसरे छोर पर जेमिमाह थी। मैं उसके पास गई और बोला देख कुछ भी करने का लेकिन ईगो हर्ट नहीं करने का।’

मंधाना ने आगे बताया, ‘मेरी बात सुनकर उस समय तो वह कुछ नहीं बोली। लेकिन थोड़ी देर बाद उसने ताहुहु को बहुत अच्छा पुल किया। इसके बाद वह भी मेरे पास आई और बोली कुछ भी करने का लेकिन ईगो हर्ट नहीं करने का।’ यह कहकर स्मृति मंधाना जोर-जोर से हंसने लगीं। विक्रम ने भी हंसते हुए कहा, ‘क्या बता है।’