कृषि कानूनों के खिलाफ SAD का ‘काला दिवस’: पुलिस ने संसद मार्च से रोका, बोलीं हरसिमरत कौर- यह अघोषित इमरजेंसी

दरअसल, एक साल पहले आज ही के दिन कृषि कानून पास हुए थे। रोचक बात है कि आज ही पीएम मोदी का जन्मदिन भी है।

नरेंद्र मोदी सरकार के लाए तीन कृषि कानूनों के अधिनियमन के एक साल पूरा होने पर एनडीए का पूर्व सहयोगी शिरोमणि अकाली दल (एसएडी) आज (17 सितंबर, 2021) ‘काला दिवस’ मना रहा है। पार्टी कार्यकर्ताओं की दिल्ली में गुरुद्वारा रकाबगंज से संसद तक मार्च की योजना थी, पर इसे सही से निकालने नहीं दिया गया। एसएडी कार्यकर्ताओं ने इसी को लेकर मोर्चा खोला, जिसकी वजह से शहर के कई इलाकों में तगड़ा जाम लग गया। इस बीच, पुलिस ने कुछ जगहों पर बैरिकेड्स लगाकर पार्टी कार्यकर्ताओं को भी रोका। पंजाब से दिल्ली आ रहे कार्यकर्ताओं को भी लौटा दिया गया।

दल की नेत्री हरसिमरत कौर बादल ने घटना से जुड़ा वीडियो शेयर करते हुए आरोप लगाया कि देश में अघोषित इमरजेंसी लगी हुई है। बादल के ट्वीट के मुताबिक, “दिल्ली पुलिस द्वारा शहर के एंट्री प्वॉइंट्स सील करना और गुरुद्वारा रकाबजगंज पहुंच रहे अकाली दल के कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेना बेहद निंदनीय है। मुझे फोन कॉल और वीडियो मिल रहे हैं, जो बताते हैं कि कैसे पुलिस तीन कृषि कानूनों के खिलाफ होने वाले इस मार्च को विफल करना चाहती है। यह एक अघोषित आपातकाल है।”

हालांकि, दिल्ली पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया था कि शिअद के नेतृत्व में होने वाले विरोध मार्च गुरुद्वारा रकाबगंज से संसद की ओर होना था, पर कोरोना वायरस महामारी के प्रसार और मौजूदा गाइडलाइंस के मद्देनजर उसके लिए अनुमति नहीं दी गई है। नई दिल्ली जिला में धारा 144 लगी हुई है।

नई दिल्ली जिला के डीसीपी दीपक यादव ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, “अकाली दल द्वारा आयोजित विरोध प्रदर्शन के लिए कुछ लोग यहां (गुरुद्वारा रकाबगंज के नजदीक) जुटे थे। हम उनके नेताओं के साथ संपर्क में हैं और साफ तौर पर स्पष्ट कर चुके हैं कि प्रदर्शन करने के लिए कोई मंजूरी नहीं दी गई है।”

विरोध मार्च को ध्यान में रखते हुए शंकर रोड इलाके में भी सुरक्षाबल तैनात किया गया। वहीं, दिल्ली के कई इलाकों में इस विरोध प्रदर्शन से पहले जाम की समस्या से लोगों को दो-चार होना पड़ा। झंडेवालां-पंचकुइंया रोड पर सुबह यातायात प्रभावित रहा। इसी बीच, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने ट्वीट कर जानकारी कि पंडित श्री राम शर्मा और बहादुरगढ़ सिटी मेट्रो स्टेशंस से एंट्री और एग्जिट (प्रवेश और निकास) को फिलहाल बंद कर दिया गया है।