केरल मॉडल की तारीफ करने वाले लोग झूठे साबित हुए- कोरोना का नाम लेकर बरसे ज्योतिरादित्य सिंधिया

बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने केरल में बढ़ते मामलों पर ट्वीट किया है। ज्योतिरादित्य ने ‘केरल मॉडल’ को फेल बता दिया है। उनके ट्वीट पर लोगों की भी अलग-अलग प्रतिक्रिया आई है।

Jyotiraditya Scindia, BJP MP, Scindia Family बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Photo- Indian Express)

केरल में कोरोना के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। अब बीजेपी के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ‘केरल मॉडल’ की तारीफ करने वालों पर निशाना साधा है। ज्योतिरादित्य ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘वे लोग गलती ढूंढने और मौन साधने की कला में मास्टर हैं, जो कोरोना के खिलाफ लड़ाई में ‘केरल मॉडल’ की प्रशंसा कर रहे थे, अब झूठे साबित हो गए हैं। वायरस अनियंत्रित रूप से उभर रहा है, ऐसा कोई भी मॉडल नहीं है जो सबके लिए और हर समय काम करे।’

दरअसल, ज्योतिरादित्य सिंधिया का ये जवाब पत्रकार और लेखक मिन्हाज मर्चेंट के एक ट्वीट पर आया। मिन्हाज ने लिखा था, ‘केरल में 31 हजार 285 कोरोना के मामले दर्ज किए गए हैं। ये भारत के कुल केसेज का अकेले 65 प्रतिशत है। वाम-इस्लामिस्ट-कांग्रेस-टीएमसी समर्थित मीडिया ने चुप्पी साध रखी है। कैसा होता अगर ऐसे ही तेजी से मामले गुजरात और उत्तर प्रदेश में बढ़ रहे होते? ये प्रोफेशन और निष्पक्ष पत्रकारिता की विफलता का सबूत है।’

सिंधिया के ट्वीट पर लोगों की अलग-अलग प्रतिक्रिया भी आई है। रितेश शाही नाम के यूजर ने लिखा, ‘कांग्रेसी पत्रकारों को इस पर भी एक शो बनाना चाहिए। लगता है उन्हें आलाकमान से अभी इस पर शो बनाने का ऑर्डर नहीं मिला है।’ सैयद आलम नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा, ‘मध्यप्रदेश में केरल से बहुत ज्यादा भयावह स्थिति है। लेकिन हर कोई सिर्फ केरल को ही टारगेट कर रहा है।’

ट्विटर यूजर अवधेश ने लिखा, ‘भारत में जब बिना पढ़े-लिखे लोग नेता बन जाएंगे तो केस तो बढ़ेंगे ही। केरल में तो भारत के 50 प्रतिशत से भी ज्यादा केस आ रहे हैं और लोग चुप्पी साधकर बैठे हुए हैं।’ यूजर अनिल पाटिल लिखते हैं, ‘ऐसे सभी पत्रकार अफगानिस्तान गए हैं। वहां अफगान नेताओं से शांति की अपील की जा रही है। मान गए तो अफगान में शांति और नहीं तो भारत में शांति।’

केरल में नाइट कर्फ्यू: बता दें, केरल में कोरोना के नए मामलों की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। शनिवार को 31 हजार 265 नए केस सामने आए थे जिसके बाद सीएम पिनराई विजयन ने सोमवार से रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया था। वहीं, रविवार को राज्य में फुल लॉकडाउन लागू किया गया है। केरल में अभी 2 लाख 12 हजार 595 एक्टिव केस हैं। अबतक 20 हजार 541 लोगों की कोविड से मौत हो चुकी है।