कैमरे के आगे बार-बार आ रहे थे राज कपूर, गुस्से में डायरेक्टर ने जड़ दिया था चांटा; फिर हुआ था कुछ ऐसा

किदार शर्मा ने बताया था- ‘राज कपूर के साथ मेरी पहली फिल्म थी ‘नीलकमल’। उस पिक्चर ने दो सितारों को जन्म दिया-एक पृथ्वीराज के साहबजादे, राजकपूर और दूसरी मधुबाला।’

Raj Kapoor, Film Director slapped Raj Kapoor, राज कपूर, लेजेंड राज कपूर (फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस आरकाइव)

लेजेंड राज कपूर को एक बार एक फिल्म डायरेक्टर ने तमाचा जड़ दिया था। इस बारे में खुद उस फिल्म डायरेक्टर ने बताया था। पंडित किदार शर्मा के निर्देशन में जब राज कपूर ने काम करना शुरू किया था तो एक बार उन्हें फिल्म डायरेक्टर से बहुत बुरी तरह से डांट पड़ गई थी। डायरेक्टर किदार शर्मा ने खुद बताया था कि उस वक्त उन्हें इतना गुस्सा आ गया था कि उन्होंने राज कपूर को जोरदार चांटा भी जड़ दिया था। किदार शर्मा ने बताया था- ‘राज कपूर के साथ मेरी पहली फिल्म थी ‘नीलकमल’। उस पिक्चर ने दो सितारों को जन्म दिया-एक पृथ्वीराज के साहबजादे, राजकपूर और दूसरी मधुबाला।’

डायरेक्टर किदार शर्मा ने बॉलीवुड आज और कल को दिए इंटरव्यू में बताया था- ‘मैंने उसे डांटा नहीं जोर का चांटा मारा था। उसका कारण ये है कि पृथ्वी मेरा दोस्त था, तो वो मेरे पास राज को लाया। इनके खानदान में चरण स्पर्श करने का चलन है, मैं इसके खिलाफ हूं। इंसान को इंसान के कदम नहीं छूने चाहिए, हाथ जोड़कर नमस्कार करना चाहिए।’

उन्होंने बताया था- ‘राज कपूर मेरे पैर छूता था तो मैंने कुछ नहीं कहा। अब मैंने क्या देखा कि इस बच्चे में दो चीजें बड़ी अजीब और गरीब थीं। एक तो ये कि वो फर्स्ट असिस्टेंट से पूछता कि क्लोज अप कहां से कहां तक का है, और दूसरा कि मैं कहता था कि तुम क्लैप के साथ रेडी रहना, पर वो क्लैप कम बजाता था और अपने आप को ज्यादा कंपोज करता था, ताकि उसका क्लोज अप आ जाए और फिर वो वहां से कटिंग ले (फर्स्ट असिस्टेंट से)। पहले तो मैंने कुछ नहीं कहा, मैंने सोचा बच्चा है, खुद को फ्रेम में देखना चाहता है।’

डायरेक्टर ने बताया था- ‘लेकिन एक दिन क्या हुआ कि उस दिन हम घोड़बंदर में शूट करने गए। उस जमाने में बैक प्रोजेक्शन का इंतजाम नहीं था। मुझे एक शॉट चाहिए था, जिसमें एक किंग अपना सब कुछ हार जाता है और फ्रेम में डूबता सूरज नजर आता है। तो हम लोकेशन पर पहुंचे सारा दिन हमने सूरज डूबने का इंतजार किया। जैसे ही परफेक्ट मोमेंट आया तो मैंने उसे हाथ जोड़ कर कहा बेटे राज आज तू दो काम नहीं करेगा- एक तू अपने आप को कंपोज नहीं करेगा, दूसरा तुम एक्टिंग कर रहे शख्स को डिस्टर्ब नहीं करोगे। तो उसने बोला -हांजी। लेकिन वो जब वहां गया तो भूल गया। वहां सूरज अपनी जगह पर आया और कैमरामैन ने कहा-एक्शन।’

किदार शर्मा ने कहा- ‘उसका तो ध्यान अपनी तरफ था, वो कंपोज कर रहा था। उसने क्लैप किया और हवा से एक्टर की दाढ़ी हाथ में आ गई और वो दाड़ी क्लैप के बीच ही ले गया। जो उस वक्त बादशाह प्ले कर रहा था बोला, कैसे डायलॉग बोलूं दाढ़ी तो वो ले गया।’

”तब मुझे बहुत ज्यादा गुस्सा आ गया। तो मैंने उसे कहा जरा इधर आ बात सुन। उसको पता नहीं था कि मैं क्या करूंगा। ये मेरे पास आया, मैंने इतने जोर से चांटा मारा उसको कि मुझे लगा कि अब ये शाउट करेगा। लेकिन वो कुछ नहीं बोला और गाल पर हाथ मलने लगा।” फिल्म डायरेक्टर को लगा कि राज कपूर पृथ्वीराज कपूर के बेटे हैं तो शायद उल्टा जवाब देंगे, लेकिन राज कपूर ने ऐसा कुछ भी नहीं किया।