कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई में अजीम प्रेमजी ने प्रतिदिन के हिसाब से दिए थे 22 करोड़ रुपए! लोगों ने किया सलाम; ऐसी रही है दानवीर की कहानी

एडलगिव हुरुन इंडिया परोपकार सूची 2020 के 7वें संस्करण में शीर्ष दानवीरों में दूसरे और तीसरे नंबर पर क्रमश: एचसीएल टेक्नोलॉजीज के संस्थापक अध्यक्ष शिव नाडर और रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष मुकेश अंबानी शामिल हैं।

7th Edition of EdelGive Hurun India Philanthropy List 2020

देश के उद्योग जगत ने आपदा के दौरान पीड़ितों की मदद के लिए दिल खोलकर दान किया। इसमें 7,904 करोड़ रुपये के दान के साथ विप्रो के संस्थापक-चेयरमैन अजीम प्रेमजी सबसे ऊपर रहे। एडलगिव हुरुन इंडिया परोपकार सूची 2020 के 7वें संस्करण में उनके शीर्ष पर रहने की घोषणा किए जाने के साथ ही बताया गया कि एचसीएल टेक्नोलॉजीज के संस्थापक अध्यक्ष शिव नाडर और रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष मुकेश अंबानी क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे। रिपोर्ट के मुताबिक प्रेमजी ने 22 करोड़ रुपये प्रति दिन के हिसाब से दान किया।

एडलगिव हुरुन इंडिया फाउंडेशन की रिपोर्ट में आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला को चौथा और वेदांत ग्रुप के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल को पांचवां स्थान मिला है। फाउंडेशन के अनुसार, 2020 में कुल दान 175% बढ़कर 12,050 करोड़ रुपये हो गया है। फ्लिपकार्ट के 37 वर्षीय कोफाउंडर बिन्नी बंसल इस सूची में सबसे कम उम्र के हैं। रोहिणी नीलेकणी, जो रोहिणी नीलेकणी परोपकार के माध्यम से दान करती हैं, भारत की सबसे उदार महिला हैं, इसके बाद अनु आगा और थर्मैक्स का परिवार है।

दानदाताओं की सूची में 36 परोपकारी लोगों के नाम के साथ मुंबई शीर्ष पर है। इसके बाद 20 लोगों के नामों के साथ नई दिल्ली और 10 लोगों के नामों के साथ बेंगलुरु है।

अजीम प्रेमजी के परोपकारी भावना को सलाम करते हुए ट्विटर पर कई लोगों ने उनकी सराहना की।

अनस चौधरी @AnasTahir321 नाम के एक यूजर ने लिखा, विप्रो चेयरमैन #AzimPremji ने कोविड महामारी से निपटने के लिए 22 करोड़ रुपए प्रतिदिन दान किए।

रोली काचरू @Rolee_Kachru ने लिखा, “अजीम प्रेमजी भारतीय परोपकारियों के लिए एक रोल माडल हैं।”

अर्पित सिंह @ArpitSi55545798 नाम के अन्य यूजर ने लिखा, “नायकत्व एक बार का अभिनय नहीं है।”