कोरोना संकट: घर बैठे हैं TMKOC के कई एक्टर, लेकिन समय पर मिल रही है सैलरी; प्रोड्यूसर ने बताई वजह

कोरोना के हालातों के बीच तारक मेहता अकेला ऐसा शो है जिसे और शोज के मुकाबले कम घाटा हो रहा है। ऐसे में इस शो से जुड़े हर एक्टर को बिना काम किए भी हर महीने एक..

TMKOC, Asit Modi, Corona Crisis, तारक मेहता का उल्टा चश्मा, Corona Virus, Covid-19, Taarak Mehta Producer,

कोरोना काल में एंटरटेनमेंट की दुनिया के हालात खराब चल रहे हैं, कई सारे टीवी शोज बंद हो गए हैं। हालांकि सब टीवी का शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा अपने रिपीट टेलीकास्ट से भी दर्शकों का मनोरंजन करता आ रहा है। लेकिन बाकी शोज के साथ ऐसी स्थिति नहीं है। मौजूदा हालातों को देखते हुए तारक मेहता शो के मेकर्स ने शूटिंग की लोकेशन भी बदल डाली ताकि शो को सुचारू रूप से चलाने में दिक्कतें न आएं। तो वहीं कई ऐसे एक्टर्स हैं जो शूटिंग सेट पर नहीं आ पा रहे हैं ऐसे में तारक मेहता के मेकर्स उन्हें भी सेलरी भिजवा रहे हैं।

इस कोरोना के हालातों के बीच तारक मेहता अकेला ऐसा शो है जिसे और शोज के मुकाबले कम घाटा हो रहा है। ऐसे में इस शो से जुड़े हर एक्टर को बिना काम किए भी हर महीने एक बेसिक सैलरी दी जा रही है। वहीं जो एक्टर्स इस शो में दिन के हिसाब से शूट कर रहा है, इसके लिए भी उन्हें हर दिन का पैसा बेसिक सैलरी के साथ मिलता है।

इस शो में अब्दुल का किरदार निभाने वाले एक्टर शरद शंकला इस बारे में बताते हैं कि हमारे शो TMKOC की शूटिंग गुजरात में हो रही है। शो के कई सारे कलाकार गुजरात गए हुए हैं। इस वक्त तारक मेहता की स्क्रिप्ट कोरोना को ध्यान में रख कर लिखी जा रही है। ऐसे में कोरोना काल में चल रही ब्लैक मार्किटिंग को लेकर एपिसोड्स बनाए जा रहे हैं।

इस वक्त शो में गोकुलधाम सोसाइटी के ज्यादातर आदमी ही नजर आ रहे हैं। दैनिक भास्कर के मुताबिक, अब्दुल बताते हैं कि जैसे वह शो में एक दुकानदार का रोल प्ले करते हैं, लेकिन करेंट सीरीज में शो के अंदर उनका कोई खास रोल नहीं है ऐसे में वह सेट पर नहीं जाते घर पर ही हैं। उनके जैसे और भी कई कलाकार हैं जो कि घर पर ही हैं। तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ के ‘बापूजी’ कमाई के मामले में नहीं है ‘भिड़े’ से कम, एक एपिसोड की लेते हैं इतनी फीस

पिछले कई हफ्तों से घर पर ही बैठे अब्दुल और उन जैसे कैरेक्टर्स को फिर भी असित मोदी बेसिक सैलरी दे रहे हैं। दैनिक भास्कर के मुताबिक एक्टर शरद बताते हैं- ज्यादातर एक्टर्स शूटिं पर जाते हैं तभी कमाई होती है, लेकिन हमारे शो मेकर्स बहुत अच्छे हैं और अपनी यूनिट का ख्याल रखते हैं। हर दिन शूटिंग न करने पर भी, हमें बेसिक सैलरी मिल रही है।

नट्टू काका का किरदार निभाने वाले एक्टर घनश्याम नायक भी बताते हैं कि असित मोदी उनके लिए भगवान की तरह हैं। 6-7 महीने से काम न करने के बाद भी असित मोदी उन्हें हर महीने तनख्वा देते रहे हैं।

एक साल से ज्यादा कोरोना की मार झेलने के कारण आज इंसानी जिंदगी पूरी तरह से बदल गई है। कई फील्ड्स में ‘वर्क फ्रॉम होम’ की शुरुआत चुकी है। ऐसे में एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में काम करने के तरीके में भी कई बदलाव आए हैं। मुंबई में शूट होने वाले अधिकतर सीरियल्स पर इसका असर देखने को मिल रहा है।

ऐसे में TMKOC में अब मेकर्स समय को ध्यान में रखते हुए कहानी का प्लॉट बदल रहे हैं। क्योंकि स्क्रिप्ट की डिमांड के मुताबिक कभी किसी कलाकार का सिक्वेंस होता है तो कभी किसी और का ।लेकिन कोरोना के कारण सब एक साथ मौजूद नहीं हो पा रहे। ऐसे में मेकर्स वापी में शूट कर रहे हैं। कोरोना को ध्यान में रखते हुए शो में दवाईयों की कालाबाजारी का प्लॉट बनाया गया है। इस बाबत खुद शो के मेकर असित मोदी ने इस ओर इशारा किया था कि अभी शो में और किसी चीज की नहीं बल्कि अन्य मुद्दों पर भी ध्यान देने की जरूरत है।