कोविड नियमः बोले BJP विधायक- हिंदू त्योहारों को किसी भी प्रतिबंध के तहत नहीं रखा जाना चाहिए

भाजपा विधायक ने यह भी कहा कि सरकार को सभी त्योहारों पर प्रतिबंध लगाना चाहिए ना कि सिर्फ हिंदू त्योहारों को ही प्रतिबंध के दायरे में रखना चाहिए।

भाजपा विधायक बसावनगौड़ा पाटिल ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर सरकार गणेश उत्सव को लेकर लगा कोरोना प्रतिबंध नहीं हटाती है तो पूरे कर्नाटक में अशांति फैल जाएगी। (फोटो – फेसबुक/Basangouda Patil Yatnal MLA )

त्योहारों का मौसम शुरू हो चुका है। त्योहारों पर होने वाले भीड़भाड़ को देखते हुए कई जगहों पर नियमों में सख्ती बरती जा रही है। खुद प्रधानमंत्री मोदी ने भी पिछले दिनों अपने मन की बात कार्यक्रम में कहा था कि त्योहारों के दौरान हम यह नहीं भूले कि कोरोना हमारे बीच से चला गया है। इस दौरान सभी को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य है। हालांकि पीएम मोदी की इस अपील का असर उनके अपने ही नेताओं पर नहीं पड़ रहा है। कर्नाटक से भाजपा विधायक ने कहा है कि हिंदू त्योहारों को किसी भी प्रतिबंध के तहत नहीं रखा जाना चाहिए। 

कर्नाटक के विजयपुरा से भाजपा विधायक बसावनगौड़ा पाटिल यतनाल ने एक कार्यक्रम को संबोधित करने के दौरान गणेश चतुर्थी पर सरकार द्वारा लगाए गए सख्ती को हटाने की मांग की। साथ ही उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर सरकार गणेश उत्सव को लेकर लगा कोरोना प्रतिबंध नहीं हटाती है तो पूरे कर्नाटक में अशांति फैल जाएगी।

इस दौरान भाजपा विधायक ने यह भी कहा कि सरकार को सभी त्योहारों पर प्रतिबंध लगाना चाहिए ना कि सिर्फ हिंदू त्योहारों को ही प्रतिबंध के दायरे में रखना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि मैंने मुख्यमंत्री से कह दिया है कि यदि आप इस तरह के प्रतिबंध लगाएंगे तो कोई भी पालन नहीं करेगा। इसके अलावा उन्होंने कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे जिले के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक से भी कहा कि यदि गणेश उत्सव पर लगाए गए प्रतिबंध नहीं हटाए जाते हैं तो आपको जो करने का मन हो आप वो करें। लेकिन मैं विजयपुरा में प्रतिबंध नहीं लगने दूंगा। 

भाजपा विधायक बसावनगौड़ा पाटिल यतनाल ने यह भी कहा कि ज्यादा से ज्यादा वो इसके लिए मुझपर गोली चला सकते हैं। लेकिन अगर उन्होंने ऐसा किया तो इससे पूरे राज्य में अशांति फ़ैल जाएगी। इसलिए मुख्यमंत्री गणेश उत्सव को लेकर लगाए गए प्रतिबंध को हटा दें। इस दौरान भाजपा विधायक ने कर्नाटक में लगने वाले वीकेंड कर्फ्यू को भी अवैज्ञानिक करार दिया। भाजपा विधायक ने कहा कि मुझे नहीं समझ आता है कि क्यों शनिवार और रविवार को कोरोना नियमों में सख्ती बरती जाती है। क्या सिर्फ इन दिनों में ही वायरस बाहर घूमता है।