कोविड पर दूसरों को महाराष्ट्र सरकार और BMC से सीखने की जरूरत- जावेद अख्तर ने की तारीफ तो लोग देने लगे ऐसा रिएक्शन

कोविड से निपटने के लिए महाराष्ट्र सरकार और BMC के काम की जावेद अख्तर ने तारीफ की है। लेकिन उनकी ये तारीफ कुछ लोगों को पसंद नहीं आई और लोग उनसे सवाल पूछने लगे।

javed akhtar, covid 19, uddhav thackeray

भारत में हर दिन 4 लाख से अधिक कोविड- 19 संक्रमण के नए मामले दर्ज हो रहे हैं और 4 हजार से अधिक मौतें हो रही हैं। सबसे गंभीर स्थिति महाराष्ट्र की है जहां हर दिन 50 हजार से ऊपर कोरोना संक्रमण के मामले दर्ज हो रहे हैं। अन्य राज्यों की तरह ही महाराष्ट्र की स्वास्थ्य व्यवस्था अधिक मरीजों के कारण बेहद तनाव में है। इसी बीच कोविड से निपटने को लेकर सर्वोच्च न्यायालय ने मुंबई नगरपालिका की तारीफ की है। कोविड से निपटने के लिए महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार और BMC मिलकर जो काम कर रहे हैं उस पर मशहूर गीतकार जावेद अख्तर ने भी अपनी टिप्पणी की है।

जावेद अख्तर ने एक ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने बीएमसी और महाराष्ट्र सरकार की तारीफ की और कहा कि दूसरों को इनसे सीखने की जरूरत है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘मैं मानता हूं कि दूसरों को महाराष्ट्र सरकार और बॉम्बे म्युनिसिपल कॉरपोरेशन से एक या दो सबक सीखने की जरूरत है जो जबरदस्त क्षमता के साथ कोविड के खतरे से लड़ रहे हैं।’

जावेद अख्तर के इस ट्वीट पर यूजर्स की काफी प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। कई यूजर्स ने ट्वीट पर अपनी नाराजगी जाहिर की तो कुछ यूजर्स उन्हें सहमत दिखे। पंकज नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘सर सबसे अधिक मौतें महाराष्ट्र में ही हो रही हैं लेकिन फिर भी आप ये कह रहे हैं। कैसे कर लेते हो सर?’

डॉक्टर साम कांबले नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘कम से कम महाराष्ट्र में लोग ऑक्सीजन की कमी से तो नहीं मर रहे या फिर ऐसा नहीं हो रहा यहां कि लोगों को इलाज नहीं मिल रहा।’ लाल जी नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘हमें किससे सीखना है, किससे नहीं, आप मत बताओ। सबसे ज्यादा रोगी मुंबई में हैं। कोरोना के कारण सबसे ज्यादा लोग महाराष्ट्र में ही मर रहे हैं। आप प्रश्न करने के बजाए उन्हें शाबाशी दी रहे हैं।’

संतोष ठाकुर नाम से एक यूजर लिखते हैं, ‘इसलिए सबसे ज्यादा लोग महाराष्ट्र में मर रहे हैं। सीखने- सिखाने को कुछ नहीं है। हर राज्य सही काम कर रहा है अपने इन्फ्रास्ट्रक्चर के हिसाब से।’

मनोज अग्रवाल नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘सभी चाहते हैं कि कोरोना जल्दी खत्म हो, अब एक राज्य की बात नहीं रह गई और न ही किसी को किसी से सीखने की जरूरत है। पीठ थपथपाने के चक्कर में ही आज पूरे देश की हालत खराब हो गई है। राज्यों से हटकर पूरे देश के बारे में सोचने की जरूरत है।’

आपको बता दें कि दिल्ली, यूपी आदि कोविड प्रभावित राज्यों में ऑक्सीजन की कमी से मरीजों के मरने की खबरें आ रही हैं उससे उलट महाराष्ट्र में ऑक्सीजन की कमी काफी हद तक नहीं है। हाल ही में दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी पर बोलते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि महाराष्ट्र की बीएमसी ने बहुत अच्छा काम किया है और इसके तजुर्बे से दिल्ली को सीखने की जरूरत है।