कोविड हॉस्पिटल पर सरासर झूठ बोले प्रधानमंत्री, सपा प्रवक्ता ने कहा- एक बात अच्छी भी लगी

सपा नेता ने कहा कि मुझे खुशी इस बात की कि पीएम ने कहा कि हम एक अदृश्य दुश्मन से लड़ रहे हैं अच्छा हुआ पहले की तरह यह नहीं कहा कि हम कोरोना को फला फला दिन में हरा देंगे।

PM Modi's Aunt, Dypty CM of UP

न्यूज़ 24 पर डिबेट के दौरान एंकर ने समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता से पूछा कि आज आप बताइए कि कोरोना वायरस से लड़ाई में असफलता के लिए कौन जिम्मेदार है केंद्र, राज्य जिम्मेदार हैं या फिर हम सब जिम्मेदार हैं? इसका जवाब देते हुए समाजवादी पार्टी के नेता ने कहा कि आज के भाषण में प्रधानमंत्री मोदी ने कई बातें तो झूठ कहीं लेकिन कई चीजों को लेकर मैं खुश हूं क्योंकि प्रधानमंत्री ने सच स्वीकार किया है।

सपा नेता ने कहा कि मुझे खुशी इस बात की कि पीएम ने कहा कि हम एक अदृश्य दुश्मन से लड़ रहे हैं अच्छा हुआ पहले की तरह यह नहीं कहा कि हम कोरोना को फला फला दिन में हरा देंगे। प्रवक्ता ने मजे लेते हुए कहा कि प्रधानमंत्री कभी किस रूप में तो कभी किस रूप में आ जाते हैं, आज मुझे लगा कि कहीं प्रधानमंत्री डॉक्टर या वैज्ञानिक के रूप में ना आ जाएं। प्रवक्ता ने कहा कि अच्छा हुआ प्रधानमंत्री वैज्ञानिक नहीं बने क्योंकि उनके वैज्ञानिक तर्कों से तो देश परेशान हो चुका है। ताली,थाली,दिए जलवा ने के बाद आज उन्होंने मान लिया कि मास्क लगाने की जरूरत है। सामाजिक दूरी बनाने की जरूरत है।

प्रवक्ता ने कहा कि बीजेपी वाले हमेशा कहते हैं कि हम फला फला चीज करने के लिए संकल्पित हैं लेकिन इन लोगों का संकल्प कभी पूरा नहीं होता है। केंद्र जो यह बात कह रहा है कि गांव में कोविड-19 अस्पताल बनाए जा रहे हैं सरासर झूठ है। योगी आदित्यनाथ ने आज तक कोई कोविड-19 अस्पताल मॉडल रूप में नहीं बनाया।

प्रधानमंत्री पीएम केयर्स फंड के बारे में देश को बता नहीं पा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने झूठ बोला कि कोविड-19 अस्पताल बन रहे हैं, ऑक्सीजन प्लांट के नाम पर कुछ नहीं लगाए गए। प्रधानमंत्री ने कहा कि कालाबाजारी करना मानवता के खिलाफ है, क्या चुनाव कोरोना वायरस में करवाना मानवता के खिलाफ नहीं था? देश के हालात ऐसे हैं कि गंगा में लाशें दिख रही हैं।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण से और 312 मरीजों की मौत हो गई जबकि संक्रमण के 15,747 नये मामले सामने आए हैं। अपर मुख्‍य सचिव स्‍वास्‍थ्‍य अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 312 मरीजों की मौत होने के साथ ही महामारी से राज्य में होने वाली मौतों की संख्या बढ़कर 16,958 हो गई है।