कौन हिंदू रॉकेट लांचर लेकर टहल रहा? पैनलिस्ट पर भड़क गए अमिश देवगन, संबित पात्रा बोले- एक शब्द नहीं बर्दाश्त करूंगा

तालिबान से आई एक वीडियो को लेकर बहस का मुद्दा गरमाया हुआ था, जिसके बाद पैनलिस्ट शोएब ‘श्रीराम’ का नाम भी बीच में ले आए। श्रीराम का नाम सुन कर बीजेपी नेता संबित पात्रा बुरी तरह भड़क गए।

sambit patra, congress भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

न्यूज 18 इंडिया की लाइव डिबेट में अमिश देवगन के शो पर पैनलिस्ट शोएब जमई संग संबित पात्रा की तीखी बहस हो गई। तालिबान से विचलित करने वाले वीडियोज लगातार आ रहे हैं, जिसे देख हर कोई रिएक्ट कर रहा है। लाइव डिबेट में भी इस वीडियो को लेकर बहस का मुद्दा गरमाया हुआ था, जिसके बाद पैनलिस्ट शोएब ‘श्रीराम’ का नाम भी बीच में ले आए। श्रीराम का नाम सुन कर बीजेपी नेता संबित पात्रा बुरी तरह भड़क गए। तो वहीं अमिश देवगन का भी गुस्सा फूट पड़ा।

संबित पात्रा शो पर अमिश देवगन से बोले- ‘आपने तालिबान के विषय में पूछा तो शोएब जमई ने कहा मेरा दिल तो पिघल जाता है, जब जय श्रीराम के नारे बोलकर के आतंकी हमले हो जाते हैं! जब जय श्री राम बोलकर महिलाओं के साथ बलात्कार होता है। देखिए इन्होंने तालिबान को राम जी के साथ कंपेयर किया यहां पर। आपको क्या लगता है हिंदुस्तान पर इसका असर नहीं पड़ेगा? क्यों नहीं पड़ेगा?’

संबित आगे बोले- ‘आप श्रीराम के साथ इन तालिबानियों को कंपेयर कर रहे हैं..। जबकि हम हिंदू मुसलमान नहीं कर रहे हैं। लेकिन बार बार हिंदुओं को घसीट कर क्यों लाते हैं, हम तो मुसलमान मुसलमान नहीं कर रहे हैं। हम तो तालिबान अलग रख रहे हैं। क्या उत्तर प्रदेश में जो रामभक्त हैं, क्या उनका मन नहीं है? उनकी कोई वेदना नहीं है? उनके इमोशन नहीं है? वो ऐसी बेफिजूल की बातों पर, छोटी बातों पर क्या वो रिएक्ट नहीं करेंगे?’

संबित आगे बोले- ‘हां हम लड़कर रिएक्ट नहीं करेंगे, चिल्ला कर रिएक्ट नहीं करेंगे। लेकिन हम अपने लोकतांत्रित तरीके से तो रिएक्ट करेंगे ना? क्यों न करें, मुझे बहुत तकलीफ हुई जब कहा गया कि उस बच्ची के साथ जो हैवानियत हो रही है, ऐसे ही कईं महिलाओं को काट दिया गया। उसमें इन्होंने कहा आप भी तो ज श्रीराम बोलकर आतंकी हमले करते हैं!’

इस पर अमिश शोएब से सवाल करते हैं- ‘आपको अफसोस नहीं है जो आपने वक्तव्य बोला? आप उन प्रभु राम की बात कर रहे हैं जिनको राजा बनना था और उनकी मां ने आदेश कर दिया तो वो गद्दी छोड़ कर चले गए। 14 साल का उन्होंने वनवास ले लिय़ा। कई मुकाबला नहीं है जी। अपनी बात को सिद्ध करने के लिए वो स्वरा भास्कर टाइप हल्की बातें करना और ये कहना कि देखिए हिंदू ऐसा करते हैं तो तालिबान ऐसा कर रहा है..तालिबान गलत कर रहा है। और वैसे भी कौन सा हिंदू यहां रॉकेट लॉन्चर लेकर घूम रहा है बाजार में?’

इस पर पैनलिस्ट शोएब जवाब देते हैं- ‘सुनिए आप इतना विचलित क्यों हो जाते हैं, जरा सा मैंने बीजेपी को पकड़ लिया तो आप विचलित हो गए।’ इस पर अमिश देवगन गुस्साते हुए कहते हैं- ‘आपने प्रभुराम को पकड़ा है!’

पैनलिस्ट कहते हैं- ‘जो अल्ला हु अकबर का नाम लेकर जुल्म करते हैं वो आतंकी हैं, ऐसे ही जो श्रीराम का नाम लेकर के बच्ची को मारते हैं और जयश्रीराम के नारे लगा के गरीब आदमी को मारते हैं ये भी उसी मानसिकता के लोग हैं। किसी भी धर्म के लोग हों अपने आराध्य का नाम लेकर आप किसी को मार नहीं सकते।’

शोएब की इस बात पर संबित पात्रा बिफर पड़ते हैं। गुस्साते हुए वह कहते हैं- ‘मैं नहीं सुनने वाला ये सब अमिश जी। मैं इसमें बिलकुल सख्त हूं, जय श्रीराम को बदनाम न किया जाए। भगवान राम को आतंक से न जोड़ा जाए। कोई यहां भगवान के नाम पर आतंकी गतिविधी नहीं करता है।’