क्या टीम इंडिया के लिए कप्तानी का ‘फिलर’ बनकर रह गए हैं शिखर धवन?

बीसीसीआई द्वारा सोमवार को टी-20 वर्ल्डकप 2022 के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर दिया गया है. कप्तान रोहित शर्मा की अगुवाई में अक्टूबर में भारतीय टीम वर्ल्डकप ट्रॉफी जीतने के लिए उतरेगी, भारत अभी तक एक ही बार टी-20 वर्ल्डकप जीत पाया है. टीम का ऐलान हुआ तो लोगों को भरोसा था कि कुछ चौंकाने वाले नाम यहां देखने को मिल सकते हैं, लेकिन ऐसा हुआ नहीं. बल्कि एशिया कप वाली टीम को ही मैदान में उतार दिया गया है. इस बीच शिखर धवन को लेकर भी फैन्स में निराशा का माहौल है.

शिखर धवन एक लंबे वक्त के लिए टीम इंडिया के बेस्ट ओपनर रहे हैं, उन्होंने लगातार परफॉर्मेंस भी दी है और आईसीसी इवेंट्स में उनका रिकॉर्ड भी दमदार है. लेकिन टी-20 फॉर्मेट में अब उनकी वापसी काफी मुश्किल दिखती है, यही कारण है कि टी-20 वर्ल्डकप के लिए उनकी ओर देखा भी नहीं गया और केएल राहुल-रोहित शर्मा की ओपनिंग जोड़ी पर भरोसा जताया गया.

क्लिक करें: धरे रह गए प्रयोग, रोहित-द्रविड़ के ‘ब्रह्मास्त्र’ फेल, टी-20 वर्ल्डकप जिता पाएगी ये टीम?

कप्तानी का बैक-अप बन गए शिखर धवन!

आपको जानकर हैरानी होगी कि पिछले 1-2 साल में शिखर धवन ने टीम इंडिया के लिए जितने भी मैच खेले हैं, उनमें वह अधिकतर में बतौर कप्तान ही टीम का हिस्सा रहे हैं या फिर उप-कप्तान बने हैं. क्योंकि शिखर धवन को तभी मौका दिया जा रहा है जब टीम के अन्य सीनियर प्लेयर्स आराम पर होते हैं और किसी कमजोर टीम या घरेलू सीरीज में कम मज़बूत टीम को उतारा जाता है. 

इसकी शुरुआत श्रीलंका सीरीज़ से हुई थी, उस वक्त भारतीय टीम वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप खेल रही थी. शिखर धवन ने श्रीलंका, वेस्टइंडीज़ के खिलाफ टीम इंडिया की कप्तानी की, इसके अलावा जिम्बाब्वे सीरीज़ में वह कप्तान बनाए गए थे लेकिन ऐन मौके पर केएल राहुल की वापसी हुई और शिखर धवन को उप-कप्तान बनाया गया. 

क्लिक करें: ‘मैं हैरान हूं…’, टी-20 वर्ल्डकप टीम में इन प्लेयर्स के ना होने पर भड़के मोहम्मद अजहरुद्दीन

आईसीसी इवेंट्स में रिकॉर्ड्स का शिखर

शिखर धवन ने टीम इंडिया के लिए आईसीसी इवेंट्स में बेहतरीन प्रदर्शन किया है, 2013 की चैम्पियंस ट्रॉफी में वह प्लेयर ऑफ द सीरीज़ थे. वह टूर्नामेंट भारत ने जीता था, इसके बाद 2015, 2019 वर्ल्डकप में भी उनके बल्ले से जमकर रन बरसे थे. हालांकि, टी-20 वर्ल्डकप में वह सफल नहीं रहे हैं उन्होंने भारत के लिए 2 टी-20 वर्ल्डकप खेले हैं जिसमें उनके जोड़ीदार मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा ही रहे हैं.

वनडे वर्ल्डकप में रिकॉर्ड: 10 मैच, 537 रन, 53.70 औसत, 3 शतक, 1 फिफ्टी
चैम्पियंस ट्रॉफी में रिकॉर्ड: 10 मैच, 701 रन, 77.88 औसत, 3 शतक, 3 फिफ्टी
टी-20 वर्ल्डकप में रिकॉर्ड: 7 मैच, 74 रन, 10.57 औसत 

वर्ल्डकप 2023 के मिशन पर हैं शिखर धवन

गैप में मिलने वाले मौकों को लेकर शिखर धवन ने हाल ही में बात भी की थी और कहा था कि वह अब मोमेंट को एन्जॉय करने पर ध्यान देते हैं. उन्हें जो भी मौका मिलता है, वह उसे भुनाने की कोशिश में लगते हैं. इसके अलावा किसी और बात पर ध्यान नहीं देते हैं. शिखर धवन के पास टी-20 टीम में वापसी का मौका तो मुश्किल दिखता है, लेकिन वनडे टीम में वह जगह बना सकते हैं. अगले साल भारत में ही वनडे का वर्ल्डकप होना है, ऐसे में उनके निशाने पर उस वर्ल्डकप में खेलना ज़रूर होगा.