क्रिकेट पर आतंक का साया: पहला मैच शुरू होने से ठीक पहले कीवी टीम ने रद्द किया पाकिस्तान का दौरा, इमरान खान के मनाने पर भी नहीं मानीं न्यूजीलैंड की पीएम

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने सुरक्षा कारणों के चलते पाकिस्तान दौरा रद्द कर दिया है। शुक्रवार को रावलपिंडी में सीरीज का पहला वनडे मैच शुरू होने से ठीक पहले न्यूजीलैंड क्रिकेट की तरफ से बयान जारी किया गया।

new-zealand-cricket-team-cancelled-pakistan-tour-just-before-the-start-of-first-odi-due-to-security-reasons-pak-pm-imran-khan-fails-to-convince 18 साल बाद पाकिस्तान के दौरे पर पहुंची न्यूजीलैं क्रिकेट टीम ने सुरक्षा कारणों के चलते रद्द किया पूरा दौरा (Source: Twitter PCB/Indian Express)

पाकिस्तान में लंबे समय बाद एक बार फिर से क्रिकेट शुरू होने की आस जगी थी और न्यूजीलैंड की टीम तीन वनडे व पांच टी20 मुकाबले खेलने पहुंची थी। शुक्रवार को पहला वनडे मैच शुरू होने से ठीक पहले सुरक्षा कारणों के चलते न्यूजीलैंड ने इस दौरे को रद्द करने का फैसला लिया। इससे पहले 2003 में आखिरी बार न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान का दौरा किया था।

रावलपिंडी में शुरू होने वाले पहले वनडे मैच से ठीक पहले न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने सुरक्षा का हवाला देते हुए अपना पाकिस्तान का दौरा रद्द कर दिया। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने इसको लेकर कहा है कि न्यूजीलैंड की टीम की सुरक्षा को किसी तरह का खतरा नहीं था।

इसके बाद न्यूजीलैंड क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी डेविड वाइट ने बयान जारी करके कहा कि, ‘उन्हें जो सलाह मिल रही थी उसे देखते हुए दौरा जारी रखना संभव नहीं है। मैं समझता हूं कि यह पीसीबी के लिए करारा झटका होगा जो कि शानदार मेजबान रहा है लेकिन खिलाड़ियों की सुरक्षा सर्वोपरि है और हमारा मानना है कि इसके लिए यही जिम्मेदारी भरा विकल्प है।’

न्यूजीलैंड क्रिकेट संघ के मुख्य कार्यकारी हीथ मिल्स ने भी वाइट के विचारों पर सहमति जताई। मिल्स ने कहा, ‘खिलाड़ी सुरक्षित हैं और प्रत्येक अपने सर्वश्रेष्ठ हितों में काम कर रहा है।’

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपनी तरफ से कहा कि न्यूजीलैंड ने श्रृंखला स्थगित करने का एकतरफा फैसला किया। पीसीबी ने कहा कि न्यूजीलैंड टीम के साथ आए सुरक्षा अधिकारी भी यहां की सुरक्षा व्यवस्था से संतुष्ट थे। बोर्ड ने कहा कि, ‘पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड और पाकिस्तान सरकार सभी मेहमान टीमों के लिये सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करती है। हमने न्यूजीलैंड क्रिकेट को भी इसका आश्वासन दिया था।’

उसने कहा, ‘पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने व्यक्तिगत स्तर पर न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री से बात की और उन्हें बताया कि हमारे पास दुनिया की सर्वश्रेष्ठ खुफिया प्रणाली है और मेहमान टीम के लिए किसी भी तरह का कोई सुरक्षा खतरा नहीं है। पीसीबी मैचों के आयोजन जारी रखने के लिये तैयार है। पाकिस्तान और विश्व भर के क्रिकेट प्रेमी आखिरी क्षणों में श्रृंखला रद्द किए जाने से निराश होंगे।’

श्रीलंका क्रिकेट टीम की बस पर हुई गोलीबारी

गौरतलब है कि 2009 में श्रीलंका क्रिकेट टीम पर हुए हमले के बाद से पाकिस्तान में क्रिकेट पर रोक लग गई थी। 3 मार्च 2009 को श्रीलंकाई टीम पर हमला हुआ था, उसके बाद से टीमें पाकिस्तान का दौरा करने से कतराती थीं। बता दें कि श्रीलंका उस वक्त लाहौर में सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच खेल रही थी। टीम तीसरे दिन अपने होटल से गद्दाफी स्टेडियम जा रही थी। उसी वक्त 12 नकाबपोश आतंकियों ने उनकी टीम बस पर हमला कर दिया था।

इस हमले में श्रीलंकाई टीम के कप्तान महेला जयवर्धने, कुमार संगकारा, अजंता मेंडिस, थिलन समरवीरा, थरंगा पारनविताना और चामिंडा वास घायल हो गए थे। वहीं इस हमले में पाकिस्तान पुलिस के 6 जवान समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी। इस हमले के बाद श्रीलंका क्रिकेट टीम दौरा बीच में छोड़कर घर लौट आई थी।