क्वीन एलिजाबेथ-ll: अंतिम संस्कार में कौन-से देश रहेंगे उपस्थित, किन्हें नहीं बुलाया गया, जानें सब कुछ

हाइलाइट्स

महारानी के अंतिम संस्कार में रूस, बेलारूस और म्यांमार आमंत्रित नहीं हैं.
यूएस, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने समारोह में आने की पुष्टि की है.
एक रिपोर्ट के मुताबिक अंतिम संस्कार में विश्व के करीब 500 गणमान्य लोग उपस्थित रहेंगे.

लंदन: ब्रिटेन ने अगले सोमवार को महारानी एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए रूस, बेलारूस और म्यांमार के प्रतिनिधियों को आमंत्रित नहीं किया है. व्हाइटहॉल के एक सूत्र ने मंगलवार को यह जानकारी दी. ब्रिटेन ने अपने पश्चिमी सहयोगियों से, रूस और उसके सहयोगी बेलारूस को विश्व मंच पर आर्थिक प्रतिबंधों और यूक्रेन पर मास्को के आक्रमण के जवाब में अन्य उपायों से उसे अलग-थलग करने की मांग की है. ब्रिटेन हमेशा से ही म्यांमार और उसके सैन्य शासन का विरोधी रहा है. ब्रिटेन दक्षिण-पूर्व एशियाई देश में रोहिंग्या समुदाय का समर्थक रहा है. इन्हीं कारणों से म्यांमार भी क्वीन एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार में आमंत्रित नहीं है. 

बीबीसी की एक रिपोर्ट मुताबिक लंदन में महारानी एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार में लगभग 500 विदेशी गणमान्य व्यक्तियों के शामिल होने की उम्मीद है, जिसमें अधिकांश देशों के राष्ट्राध्यक्षों को आमंत्रण भेजा गया है, जिनके साथ ब्रिटेन के राजनयिक संबंध हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और प्रथम महिला जिल बाइडन से लेकर कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्रियों तक के कई विश्व नेताओं ने इस कार्यक्रम में उपस्थिति की पुष्टि की है. यह देश विगत वर्षों में ब्रिटेन के सबसे बड़े राजनयिक सहयोगियों में से एक रहे हैं.

Tags: Britain, Death, Queen elizabeth II