क्‍या एनपीएस दे रहा है टैक्‍स में ट्रिपल छूट का मौका, यहां है पूरी जानकारी

एनपीएस अकाउंट की मेच्‍योरिटी के समय जमा हुई कुल राशि का केवल 60 फीसदी ही टैक्‍स फ्री किया जा सकता है। बाकी 40 फीसदी के लिए आपको जीवन बीमा कंपनी से एन्‍युटी खरीदनी होगी। एन्‍युठी से वर्ष में होने वाली इनकम टैक्‍सेबल होती है। ऐसे में नेशनल पेंशन सिस्‍टम पूरी तरह से टैक्स-फ्री नहीं है।

National Pension Scheme National Pension System पूरी तरह से टैक्‍स बेनिफ‍िट नहीं है। (Photo By Indian Express Archive)

मौजूदा समय में नेशनल पेंशल सि‍स्‍टम को लेकर अभी भी कई तरह के सवाल हैं। खासकर टैक्‍स बेनिफ‍िट से संबंध‍ित। जैसे कि क्या एनपीएस अब पूरी तरह से टैक्‍स छूट यानी ईईई है? क्या धारा 80सी के तहत 1.50 लाख रुपए के अलावा नियोक्ता का योगदान पूरी तरह से टैक्‍स छूट है? जिन लोगों ने एनपीएस में अकाउंट नहीं है और नियोक्ता का अपना पीएफ ट्रस्ट है।

क्या वो शख्‍स एनपीएस अकाउंट खोल सकता है। भले ही इंप्‍लोयर एनपीएस में योगदान नहीं दे रहा हो? धारा 80सीसीडी के तहत लाभ कैसे प्राप्त की जा सकती है। क्या अभी भी इस सेक्शन के तहत एनपीएस योगदान के लिए मूल वेतन के 10 फीसदी का दावा किया जा सकता है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखि‍र इन सवालों को लेकर जानकार किस तरह के जवाब देते हैं।

जानकारों का कहना है कि मौजूदा समय में नेशनल पेंशन सिस्‍टम टैक्‍स फ्री नहीं है। जानकारों के अनुसार एनपीएस खाते में किए गए योगदान के लिए धारा 80सीसीडी (1) और 80सीसीडी (1बी) के तहत टैक्‍स क्‍लेम किया जा सकता है। वहीं अकाउंट की निरंतरता के दौरान होने वाली इनकम भी टैक्‍स फ्री है।

वहीं एनपीएस अकाउंट की मेच्‍योरिटी के समय जमा हुई कुल राशि का केवल 60 फीसदी ही टैक्‍स फ्री किया जा सकता है। बाकी 40 फीसदी के लिए आपको जीवन बीमा कंपनी से एन्‍युटी खरीदनी होगी। एन्‍युठी से वर्ष में होने वाली इनकम टैक्‍सेबल होती है। ऐसे में नेशनल पेंशन सिस्‍टम पूरी तरह से टैक्स-फ्री नहीं है।

वहीं दूसरी ओर एनपीएस अकाउंट में इंप्‍लॉयर कंट्रीब्‍यूशन इंप्‍लाई की सैलरी का 10 फीसदी तब टैक्‍स फ्री है, जो कि एनपीएस, भविष्य निधि और नियोक्ता द्वारा किए गए सेवानिवृत्ति योगदान का कुल 7.50 रुपए को एक साथ लिया गया। अगर आपके इंप्‍लॉयर के पास एनपीएस नहीं है, फिर भी आप एनपीएस खाता खोल सकते हैं और अपने एनपीएस खाते में किए गए योगदान के लिए धारा 80 सीसीडी (1) के तहत 1.50 लाख रुपए और धारा 80 सी की अन्य योग्य वस्तुओं के साथ टैक्‍स क्‍लेम कर सकते हैं।

इसके अलावा मालूम हो कि एनपीएस पर इनकम टैक्स की धारा 80 सीसीडी (1), 80 सीसीडी (1B) और 80 सीसीडी (2) के तहत टैक्स छूट का लाभ भी मिलता है। योजना क तहत सेक्शन 80सी यानी 1.50 लाख रुपये से अलग 50,000 रुपये की और छूट ले सकते हैं। यानी योजना में निवेश कर आप दो लाख रुपए की छूट का फायदा उठा सकते हैं।

आपको बता दें क‍ि पेंशन फंड रेग्युलेटर एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी के अनुसार, एनपीएस में अकाउंट होल्‍डर्स की इस साल अगस्त में सालाना आधार पर 24.06 फीसदी बढ़ी है और कुल अकाउंट होल्‍डर्स की संख्या 453.41 लाख हो गई है। वहीं, अगस्त 2020 में यह आंकड़ा 365.47 लाख था।