गैस की बढ़ी कीमतों पर ममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर तंज कसा, कहा- अब तुम्हारा उजाला अंधेरा हो गया

Mamata Banerjee on Modi Government पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee ) ने महंगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार का घेराव किया।

Mamata Banerjee on Modi Government ममता बनर्जी ने महंगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरा। Photo Source- Express and ANI

Mamata Banerjee on Modi Government: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने महंगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार का घेराव किया। केंद्र सरकार की नीतियों पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि एक आदमी किसी को एक बार बेवकूफ बना सकता है लेकिन बार-बार नहीं। उन्होंने पूछा कि आज डीजल का भाव कितना है, पेट्रोल के दाम कितने बढ़े, रुपयों का क्या हाल है? गैस के लिए चलाई जा रही उज्ज्वला योजना कहां गई। ममता बनर्जी (Mamata Banerjee ) ने पूछा क्या उजाला (उज्ज्वला) अंधेरा हो गया। बनर्जी, तृणमूल छात्र परिषद के स्थापना दिवस समारोह में बोल रही थीं।

अभिषेक बनर्जी मामले पर भड़कीं पश्चिम बंगाल CM: ममता बनर्जी ने कोयला घोटाले को लेकर अपने भतीजे और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) का बचाव करते हुए कहा कि बीजेपी विधानसभा चुनावों में हार गई थी, अब वह जांच एजेंसियों का इस्तेमाल हमारे नेताओं के खिलाफ कर रहे हैं। लेकिन मैं उन्हें बता दूं, वह हमें डरा- धमका नहीं सकते। हम अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। ममता ने कहा कि बीदजेपी हमें प्रवर्तन निदेशालय (ED) का डर दिखा रहे हैं, तो हम एजेंसी को BJP नेताओं के खिलाफ सबूत भी भेजेंगे। उन्होंने दावा किया कि भाजपा के मंत्रियों और नेताओं का एक धड़ा कोयला माफिया के साथ मिल कर काम कर रहा है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शनिवार को जांच एजेंसी की तरफ से अभिषेक बनर्जी व उनकी पत्नी को समन भेजा गया है। दोनों को कोयला घोटाले (Coal Scam) मामले में पूछताछ के लिए बुलाया गया है। ED के नोटिस के बाद अभिषेक बनर्जी ने कहा कि बीजेपी को लगता है कि हमारे खिलाफ ED का इस्तेमाल करके वह हम पर दबाव बना लेंगे लेकिन इससे हम और मजबूत होकर उभरेंगे।

बीजेपी के खिलाफ कोरग्रुप बनाने का प्रस्ताव: ममता बनर्जी (Mamata Banerjee ) ने पिछले दिनों सोनिया गांधी की गैर बीजेपी दलों की बैठक में भी शामिल हुई थीं। विपक्षी दलों की डिजिटल मीटिंग में उन्होंने 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी के खिलाफ संयुक्त आंदोलनों को लेकर विपक्षी नेताओं का एक ‘कोरग्रुप’ बनाने का प्रस्ताव रखा था। बनर्जी ने विपक्षी नेताओं से मतभेद दूर रखने और बीजेपी का एकजुट होकर मुकाबला करने की अपील की थी।

चुनाव के बाद हिंसा पर आमने-सामने: ममता बनर्जी और केंद्र सरकार के बीच पश्चिम बंगाल चुनाव के दौरान से ही तनातनी बनी हुई है। चुनाव के बाद हिंसा मामले में CBI अब तक 21 FIR दर्ज कर चुकी है। हिंसा के सिलसिले में दो लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है।