गोवा में भी कांग्रेस की ‘हालत ख़राब’! 40 की विधानसभा में बचेंगे केवल चार विधायक, आम आदमी पार्टी ने भी लगाई सेंध?

कांग्रेस विधायक एलेक्सो रेजिनाल्डो लौरेंकों के आप में शामिल होने की संभावनाओं को लेकर जब कांग्रेस के गोवा डेस्क इन चार्ज गुंडू राव से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भ्रम पैदा करने वाले लोग इस तरह की अफवाह फैला रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री लुईजिन्हो फलेरो के टीएमसी में शामिल होने के बाद अब गोवा विधानसभा में कांग्रेस के सिर्फ चार विधायक बचे हैं। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

2014 के लोकसभा चुनावों के बाद से ही देशभर में कांग्रेस पार्टी की स्थिति कमजोर होती जा रही है। भाजपा ने एक एक कर कांग्रेस के कई पुराने गढ़ उनसे छीन लिए। भाजपा के साथ ही क्षेत्रीय दलों ने भी कांग्रेस को जमकर नुकसान पहुंचाया है। बीते दिनों गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता लुईजिन्हो फलेरो भी पार्टी के विधायक पद से इस्तीफा देकर तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए। उनके टीएमसी में शामिल होने के बाद गोवा की 40 सदस्यों वाली विधानसभा में सिर्फ 4 सदस्य रह गए हैं। इसी बीच यह भी खबर आ रही है कर्टोरिम विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक एलेक्सो रेजिनाल्डो लौरेंको भी पार्टी छोड़ आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकते हैं।

हालांकि जब लौरेंको से उनकी टिप्पणी लेने की कोशिश गई तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया। लौरेंकों के आप में शामिल होने की संभावनाओं को लेकर जब कांग्रेस के गोवा डेस्क इन चार्ज गुंडू राव से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भ्रम पैदा करने वाले लोग इस तरह की अफवाह फैला रहे हैं। इसलिए मुझे नहीं लगता है कि इस तरह की बेकार अफवाहों पर जवाब दिया जाना चाहिए। हालांकि पहले जब गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री लुईजिन्हो फलेरो के भी कांग्रेस छोड़ने की संभावना जताई गई थी तो कांग्रेस पार्टी ने इसे अफवाह बताया था।

दरअसल लौरेंकों के द्वारा 30 सितंबर को लिखे गए एक पोस्ट के बाद ही उनके कांग्रेस छोड़ने की संभावनाएं तेज हो गई हैं। लौरेंकों ने 30 सितंबर को अपने एक सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा था कि हमारा काम जारी है, कोई राजनीति मायने नहीं रखता है, न ही मेरी पार्टी के द्वारा दरकिनार किया जाना मायने रखता है, हमारे लोग और हमारा कर्तव्य पहले है। भगवान का आशीर्वाद पूरी तरह से हमारे साथ है और हम सही समय पर सही निर्णय लेंगे क्योंकि कुछ गंदे नेताओं ने हमारी प्रगति को नष्ट कर दिया। अब अच्छे निर्णयों का समय है, कोई व्यक्तिगत एजेंडा नहीं बल्कि अपने लोगों को बेहतर विकास उपलब्ध करवाना हमारा आदर्श वाक्य होगा।

वहीं आप के राज्य संयोजक राहुल म्हाम्ब्रे ने कहा कि लौरेंको के साथ उनकी कोई औपचारिक चर्चा नहीं हुई। उन्होंने कहा कि हम अन्य दलों के समान विचारधारा वाले लोगों के साथ चर्चा कर रहे हैं। इसी तरह लौरेंको से भी इस तरह की चर्चा हो सकती है। लेकिन इसपर अभी कोई औपचारिक निर्णय नहीं हुआ है। सूत्रों के अनुसार आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के भी सोमवार को गोवा पहुंचने की संभावना है।