घायल को अस्पताल पहुंचाने पर मिल सकता है 5 हजार का नकद इनाम, मोदी सरकार की अनूठी पहल; एक लाख रुपये तक जीतने का मौका

केंद्र सरकार ने घोषणा की है कि सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को सही समय पर अस्पताल पहुंचाने वाले को 5 हजार का इनाम देगी। इसके लिए सरकार ने बकायदा नियम भी बना दिए हैं।

road accident reward सड़क दुर्घटना में घायलों को अस्पताल पहुंचाने पर मिलेगा इनाम (प्रतीकात्मक फोटो)

अब घायलों को अस्पताल पहुंचाने पर झंझट नहीं बल्कि, सरकार इनाम देने की तैयारी कर रही है। मोदी सरकार की नई पहल के अनुसार घायलों को अस्पताल पहुंचाने पर पांच हजार का नकद इनाम मिल सकता है। इस योजना में 1 लाख रुपये तक के इनाम का भी प्रावधान है।

सड़क मंत्रालय ने सोमवार को इसके बारे में जानकारी देते हुए कहा कि विभाग ने एक योजना शुरू की है। इस योजना के तहत सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को शुरूआती घंटे के भीतर अस्पताल ले जाने वाले को 5 हजार रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों और ट्रांसपोर्ट सचिवों को लिखे पत्र में, मंत्रालय ने कहा कि यह योजना 15 अक्टूबर, 2021 से 31 मार्च, 2026 तक प्रभावी होगी।

मंत्रालय ने सोमवार को “गुड सेमेरिटन को पुरस्कार देने की योजना” के लिए दिशानिर्देश जारी किए। मंत्रालय ने कहा कि इस योजना का मकसद मदद करने वाले लोगों को उत्साहित करना है। ताकि दुर्घटना में घायल व्यक्ति को तुरंत और जरूरी इलाज मिल सके। नियम के अनुसार नकद पुरस्कार के साथ-साथ व्यक्ति को एक प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा।

इसके अलावा मंत्रालय ने कहा कि ये इनाम पाने वालों में सबसे योग्य और अच्छे लोगों के लिए 10 इनाम राष्ट्रीय स्तर के होंगे। जिसके तहत इन 10 लोगों को 1-1 लाख रुपये मिलेंगे। इस योजना के लिए मंत्रालय, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को शुरूआती अनुदान के रूप में 5 लाख रुपये देगा।

अगर कोई व्यक्ति दुर्घटना के बारे में पुलिस को सूचित करता है तो डॉक्टर से कंफर्म करने के बाद पुलिस ऐसे नागरिक को एक आधिकारिक लेटर पैड पर लिखकर, उसके काम को प्रमाणित करेगी। जिसके बाद उसकी एक कॉपी संबंधित पुलिस थाने द्वारा जिला स्तर पर गठित मूल्यांकन समिति को भेजी जाएगी। जिसके बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

यदि घायल को शख्स खुद अस्पताल लेकर जाता है तो इसकी सारी जानकारी अस्पताल प्रबंधक खुद पुलिस को देगा। इसके बाद पुलिस उस व्यक्ति को प्रमाणित करने के बाद आगे की कार्यवाही करेगी। एक व्यक्ति एक साल में ज्यादा से ज्यादा पांच बार इनाम पा सकता है।

बता दें कि इससे पहले केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि भारत में हर साल 5 लाख दुर्घटनाएं होती हैं। जिसमें 1.5 लाख लोगों की मौत हो जाती है।