चारों तरफ चिताएं जल रही हैं और आप ये कह रहे हो- अनुपम खेर ने महामारी के बीच दी उम्मीद रखने की सलाह तो बिफरे कुमार विश्वास

कोरोना वायरस महामारी के बीच अनुपम खेर ने लोगों को उम्मीद बनाए रखने की सलाह दी, जिसे लेकर मशहूर हिंदी कवि कुमार विश्वास उनपर बिफरे हुए नजर आए।

Kumar Vishwas, Ventilator, 10% duty on Ventilator, WTO, Modi Government

कोरोना वायरस का कहर दिन प्रतिदिन देश में बढ़ता ही जा रहा है। जहां अब देश में चार लाख से ज्यादा कोरोना वायरस केस सामने आने लगे हैं तो वहीं दूसरी और लगातार कोरोना वायरस के कारण 3 हजार से ज्यादा मौतें हो रही हैं। कोरोना महामारी के बीच मरीजों को अस्पतालों में भी अव्यवस्थाओं का सामना करना पड़ रहा है। इसी बीच बॉलीवुड के मशहूर एक्टर अनुपम खेर ने लोगों को उम्मीद बनाए रखने की सलाह दी, साथ ही चिताओं की फोटो शेयर करने पर मार्केटिंग करने का भी आरोप लगाया। अनुपम खेर की इस बात को लेकर मशहूर हिंदी कवि कुमार विश्वास उनपर बिफरे हुए नजर आए।

कुमार विश्वास ने अनुपम खेर की बातों से असहमति जताई, साथ ही उनपर तंज कसते हुए कहा कि चारों तरफ चिताएं जल रही हैं और आप कह रहे हैं कि हां हो रहा है, हां हो रहा है। ऐसे काम थोड़ी न चलता है। इसके अलावा कुमार विश्वास ने बयान में गांव की और ध्यान देने की भी सलाह दी।

दरअसल, कुमार विश्वास से इंडिया टीवी शो में अनुपम खेर को लेकर सवाल किया गया और कहा गया, “उनका कहना है कि जो लोग जलती चिताएं दिखा रहे हैं, लाशें दिखा रहे हैं, दुनियाभर में इस बात की मार्केटिंग कर रहे हैं कि भारत में हाहाकार मचा हुआ है। यह करने की जगह हम थोड़ी सी उम्मीद और थोड़ी सकारात्मकता क्यों नहीं दे सकते?” अनुपम खेर की इन बातों को लेकर न्यूज ऐंकर ने कुमार विश्वास की राय जाननी चाही।

ऐसे में कुमार विश्वास ने अनुपम खेर की बातों का जवाब देते हुए कहा, “मैं उनकी इस बात से बिल्कुल भी सहमत नहीं हूं। आपके चारों तरफ चिताएं जल रही हैं, चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ है और आप सिर्फ यह कहते रहें कि हां हां हो रहा है। तो यब सब नहीं चलेगा, लोगों को श्मशान में वेटिंग के लिए फोन करना पड़ रहा है। आप इसके लिए रो लीजिए, नाराज हो लीजिए।”

कुमार विश्वास ने अपने बयान में आगे कहा, “नीला हो रहा है तो हम पीला नहीं दिखा सकते हैं। लेकिन मैं जनता से कहना चाहता हूं कि आप कोरोना से मत डरिए, बस इसपर नजर रखिए। इससे भागिये मत, क्योंकि हमारे मसालों में और हमारे प्राणायाम में बहुत दम है। हम काम करना बंद नहीं कर सकते हैं।”

कुमार विश्वास ने अपने इंटरव्यू में लोगों को गांव की तरफ रुख करने की भी सलाह दी। उन्होंने कहा कि लोग अब पैरासीटामोल इकट्ठा करें, कोविड-19 किट बनवाएं और गांव की तरफ रुख कीजिए। अगर एक इंसान की भी आपने जान बचा ली तो सारा पुण्य इसी में है। सारे संसाधन इकट्ठे कीजिए और जरूरतमंदों तक पहुंचाइये। मेरा देश ऐसी अवस्था में, जहां हमने अगर एक-दूसरे के हाथ नहीं थामे तो कंधे कम पड़ जाएंगे, लेकिन शव कम नहीं होंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बस एक बार आपके चैनल पर आकर कह दें कि हम आपके साथ हैं तो लोगों के अंदर आत्मविश्वास आ जाएगा।