चुनाव के बाद बंगाल में बढ़ने लगे कोरोना केस, ममता सरकार ने नतीजों से पहले किया आंशिक लॉकडाउन का ऐलान

चुनाव ख़त्म होने के अगले दिन ही ममता सरकार ने पश्चिम बंगाल में आंशिक रूप से लॉकडाउन लगा दिया है।

चुनावी नतीजों के आने से पहले ही पश्चिम बंगाल में ममता सरकार ने आंशिक रूप से लॉकडाउन लगा दिया गया है। विधानसभा चुनाव के बाद ही पश्चिम बंगाल में कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ने लगे थे। हालांकि अलग अलग जगहों पर मतदान होने के कारण पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन नहीं लगाया गया था। अब चुनाव ख़त्म होने के अगले दिन ही ममता सरकार ने पश्चिम बंगाल में आंशिक रूप से लॉकडाउन लगा दिया है। आंशिक रूप से लगाए गए लॉकडाउन के दौरान सिर्फ आवश्यक सेवाओं को ही छूट दी गई है।

पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा जारी आदेश का अनुसार लॉकडाउन के दौरान सभी शॉपिंग मॉल, रेस्तरां, ब्यूटी पॉर्लर, जिम, स्पा और स्विमिंग पुल बंद रहेंगे। इसके अलावा अगले आदेश तक सभी सामाजिक, सांस्कृतिक, शैक्षणिक और मनोरंजन संबंधी कार्यक्रमों में लोगों के जुटने पर पाबंदी रहेगी। हालांकि बंगाल में  बाजार, व्यापारिक स्थल सुबह सात बजे से 10 बजे तक और अपराह्न तीन बजे से शाम पांच बजे तक खुलेंगे। साथ ही घर पर सामान की आपूर्ति की इजाजत होगी।

इसके अलावा आदेश में यह भी कहा गया है कि मतगणना से जुड़ी प्रक्रियाएं और जीत की रैली निर्वाचन आयोग के प्रोटोकॉल के अनुसार होंगी। दवा की दुकानें, चिकित्सीय उपकरण, किराना की दुकान और होम डिलीवरी सेवाओं को आदेश से बाहर रखा गया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘प्रशासन द्वारा स्थिति की फिर से समीक्षा करने तक पाबंदियां जारी रहेंगी।’’ आदेश का उल्लंघन करने वालों पर कानून की उपयुक्त धाराओं के तहत कार्रवाई की जाएगी।