चुनाव में 100 करोड़ खर्चते हैं, पर कोरोना काल में सिलेंडर-एंबुलेंस को पैसे नहीं होते- बोले पप्पू यादव, BJP नेता ने कहा- मिलकर काम करें…

पप्पू यादव ने कहा कि चुनाव में राजनेता 100 करोड़ खर्च करते हैं। लेकिन जब कोरोना उनके क्षेत्र में आता है तब इनके पास सिलेंडर के लिए पैसे क्यों नहीं होते हैं? एंबुलेंस के लिए पैसे क्यों नहीं होते हैं?

Corona,Former MP, Pappu Yadav

कोरोना संकट के दौर में लोगों के बीच लगातार कार्य कर रहे पूर्व सांसद पप्पू यादव ने रिपब्लिक भारत चैनल पर एक कार्यक्रम में कहा कि राजनेता चुनाव के समय में 100 रुपये खर्च करते हैं। लेकिन कोरोना महामारी के दौर में सिलेंडर और एंबुलेंस उपलब्ध करवाने के लिए उनके पास पैसे नहीं है।

पप्पू यादव ने कहा कि चुनाव में राजनेता 100 करोड़ खर्च करते हैं। लेकिन जब कोरोना उनके क्षेत्र में आता है तब इनके पास सिलेंडर के लिए पैसे क्यों नहीं होते हैं? एंबुलेंस के लिए पैसे क्यों नहीं होते हैं? उन्होंने कहा कि हम अपनी बात नहीं कहेंगे आप दिल्ली की जनता से पूछिए कि पप्पू यादव ने अपने पैसे से कितने एंबुलेंस और बस दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार के साथ मिलकर माफिया, लोगों का शोषण करते हैं।

पप्पू यादव ने कहा कि बिहार में सरकारी कर्मचारी रेमेडेसिवर के साथ गिरफ्तार हो रहे हैं। उन्होंने बीजेपी प्रवक्ता से कहा कि आप लोग नरसंहार कर रहे हैं। पलटवार करते हुए बीजेपी प्रवक्ता रोहित चहल ने कहा कि पप्पू यादव बिना तथ्यों के बात कर रहे हैं, इनके पास कोई जवाब नहीं है। बिहार की जनता आपको देख रही है। उन्होंने कहा कि पप्पू जी आप को इस दौर में कम से कम आरोप-प्रत्यारोप से बचना चाहिए।

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि आप से सवाल पूछा गया कि आपने कितने एंबुलेंस चलाए हैं तो आप सीधा-सीधा जवाब नहीं दे रहे हैं। मैं आप से कहना चाहूंगा कि इस समय मिलकर काम करने की जरूरत है। आपको तथ्यों पर बात करनी चाहिए।

बताते चलें कि हाल के दिनों में भारतीय जनता पार्टी पर पप्पू यादव लगातार हमलावर रहे हैं। हाल ही में उन्होंने कोरोना संकट के बीच धूल फांक रहीं एंबुलेंस को लेकर मुद्दा बनाते हुए BJP को घेरा था। उन्होंने बीजेपी सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूढ़ी पर एंबुलेंस को छिपा कर रखने का आरोप लगाया था। हालांकि बाद में पप्पू यादव पर एंबुलेंस में तोड़फोड़ और धमकी देने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज किया गया है।