चुनाव रणनीतिकार पीके बने कोलकाता के वोटर, ममता के भतीजे के घर को बताया अपना ठिकाना

प्रशांत किशोर ने अपनी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के घर को अपना “केयर ऑफ” पता बताया है। प्रशांत किशोर लॉकडाउन के दौरान इसी घर में रह रहे थे।

prashant kishor चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर। एक्सप्रेस फोटो

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने पश्चिम बंगाल के भवानीपुर से खुद को मतदाता के रूप में पंजीकृत करवाया है। इसकी एक फोटो भाजपा की तरफ से शेयर की गई है। बता दें कि 30 सितंबर को भवानीपुर विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव होना है और यहां से तृणमूल कांग्रेस की तरफ से राज्य की सीएम ममता बनर्जी मैदान में हैं। दरअसल इसी साल की शुरुआत में हुए विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट से भाजपा नेता सुवेन्दु अधिकारी से चुनाव हार गईं थी। ऐसे में उन्हें मुख्यमंत्री बने रहने के लिए भवानीपुर सीट से जीत दर्ज करनी होगी।

वहीं प्रशांत किशोर का मतदाता के रूप में खुद को पंजीकृत कराना काफी अहम माना जा रहा है। इसके अलावा बंगाल में बीते विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के लिए चुनाव प्रबंधन का काम करने वाले पीके पर भाजपा की पैनी नजर बनी हुई है।

दरअसल सूत्रों का यह कहना है कि भाजपा नहीं चाहती कि उपचुनाव के दौरान पीके उपस्थिति कोलकाता में रहे, ऐसे में उन्हें यहां से बाहर रखने के लिए भाजपा दबाव बना सकती है। माना जा रहा है कि इसी को देखते हुए पीके ने भवानीपुर से खुद को वोटर के रूप में पंजीकृत कराया है। उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के पते को अपना “केयर ऑफ” पता दिखाया है। प्रशांत किशोर लॉकडाउन के दौरान यहीं रहे थे।

मई में टीएमसी को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में बंपर जीत दिलाने में पीके ने अहम भूमिका निभाई थी। ममता बनर्जी ने इस चुनाव 292 सीटों में से 213 सीटें जीती थी।

वहीं बंगाल में भवानीपुर समेत शमशेरगंज और जंगीपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने हैं। इन तीनों सीटों पर 30 सितंबर को होगा वोटिंग और 3 अक्टूबर को मतगणना होगी। इसमें भवानीपुर सीट से ममता बनर्जी मैदान में और उन्हें राज्य का सीएम बने रहने के लिए यह चुनाव जरूरी होगा। इससे पहले वो