चुन्नीलाल कहां से लगता हूं?- जब संजय लीला भंसाली ने गोविंदा को ऑफर की फ़िल्म, हीरो नंबर-1 ने उल्टा पूछ लिया सवाल

गोविंदा को शाहरुख खान के साथ एक फिल्म ऑफर हुई थी, लेकिन गोविंदा सपोर्टिंग रोल करने के लिए तैयार नहीं हुए थे। ये फिल्म थी…

Govinda, Sanjay Leela Bhansali, Shah rukh Khan, Govinda Blasted on Sanjay Leela Bhansali,

हीरो नंबर 1 एक्टर गोविंदा ने अपने करियर में एक से बढ़कर एक फिल्मों में काम किया। तो वहीं उन्होंने एक से बढ़कर एक फिल्मों का ऑफर ठुकराया भी। गोविंदा ने अपने करियर में ज्यादातर हिट्स डेविड धवन के साथ दिए। वहीं उन्होंने बॉलीवुड के बेस्ट डायरेक्टर्स के साथ काम करने से भी इनकार किया। इतना ही नहीं गोविंदा ने तो हॉलावुड की फिल्म में काम करने तक से समना कर दिया था।

गोविंदा को शाहरुख खान के साथ एक फिल्म ऑफर हुई थी, लेकिन गोविंदा सपोर्टिंग रोल करने के लिए तैयार नहीं हुए थे। ये फिल्म थी देवदास। फिल्म में गोविंदा को चुन्नी बाबू का रोल ऑफर हुआ था। इस पर गोविंदा ने मेकर से पूछा था कि आपको मुझमें कहां चुन्नी लाल दिखाई देता है? कि मैं पिला पिलाके…।

शाहरुख बोलेंगे तो कर लूंगा फिल्म, बोले थे गोविंदा

गोविंदा ने रजत शर्मा के शो आपकी अदालत में कहा था- मैं सुपरस्टार हुआ करता था, मैंने कहा कि ठीक है टॉप के डायरेक्टर हो आप, मुझे ऐसे साइड कैरेक्टर दे रहे हो। मतलब सीधा स्टार से ऐसे नीचे। फिर मैंने कहा कि शाहरुख से कहो कि अगर वो मुझे कहे तो फिर दोस्ती के नाते मैं ये फिल्म कर लूंगा ऐसे फिल्म नहीं करूंगा।

सुभाष घई और हॉलीवुड फिल्म डायरेक्टर को भी कहा था-नहीं करनी फिल्म

इसके अलावा गोविंदा को फिल्म ताल भी ऑफर हुई थी। लेकिन उसमें भी गोविंदा ने सुभाष घई से कहा था कि उन्हें फिल्म का टाइटल पसंद नहीं है। तो उन्होंने मुझसे कहा कि- किस ज्योतिष ने तुमसे कहा कि ये टाइटल अच्छा नहीं है? मेरी पिक्चरें अच्छी चल रही थीं तो थोड़ा सा हवा में था मैं।

इस पर रजत शर्मा ने कहा- इतने हवा में थे कि आपने हॉलीवुड की फिल्म भी छोड़ दी? गोविंदा ने बताया कि ये फिल्म ‘अवतार’ थी। मेकर्स को उन्होंने ही ये टाइटल सुझाया था। गोविंदा ने इसके लिए कहा- ‘वो बहुत सुपरहिट फिल्म हुई थी, मैंने कह भी दिया था कि तुम्हारी फिल्म बहुत चलने वाली है। मैंने ये भी कह दिया था कि तुम्हारी ये फिल्म 7 साल तक नहीं बनने वाली। तुम पिक्चर नहीं कंप्लीट कर पाओगे, ऐसा मुझे लगता है। मैंने ये सोचा भी नहीं कि मैं उसके ही शहर में हूं।’