जब हिमानी बुंदेला ने KBC 13 के बुलावे को समझा फेक कॉल, अमिताभ बच्चन के शो को समझ रही थीं कोई स्कैम

हिमानी ने केबीसी वालों का उस वक्त फोन काट दिया था जब वह उन्हें शो पर आने के लिए इनवाइट कर रहे थे।

KBC 13 First Crorepati Woman, Himani Bundela, शो कौन बनेगा करोड़पति में महानायक अमिताभ बच्चन के साथ हिमानी बुंदेला (फोटो सोर्स- सोनी इंस्टा)

आगरा के गुरु गोविंद नगर की रहने वालीं हिमानी बुंदेला केबीसी के सीजन 13 की पहली करोड़पति बन गई हैं। हिमानी बुंदेला ने केबीसी में आने के लिए जी तोड़ कोशिशें कीं तब जाकर उनका नंबर लगा। लेकिन जब उनका नंबर आ गया तो उन्होंने केबीसी टीम का फोन ही नहीं उठाया था। जी हां, पर कहते हैं ना मेहनत और किस्मत के आगे किसी की नहीं चलती।

दरअसल, हिमानी ने केबीसी वालों का उस वक्त फोन काट दिया था जब वह उन्हें शो पर आने के लिए इनवाइट कर रहे थे। इन दौरान केबीसी मेकर्स हिमानी से बात करना चाह रहे थे और उन्हें आगे बढ़ने का प्रॉसेस बताने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन हिमानी तो उनका फोन ही नहीं उठा रही थीं।

जागरण टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, हिमानी बुंदेला को जब पहली बार केबीसी 13 के ऑडिशन के लिए कॉल आया था तब हिमानी को लगा था कि कोई फेक कॉल है। हिमानी बुंदेला केबीसी के लिए पिछले 5 सालों से ट्राय कर रही थीं। ऐसे में इस बार हिमानी की किस्मत ने उनका साथ दिया और उनका नंबर लग गया। जब हिमानी को केबीसी की टीम से कॉल आया तो पहले तो हिमानी ने फोन ही नहीं उठाया। इसके बाद हिमानी ने दोबारा केबीसी वालों का फोन कट कर दिया। उस वक्त हिमानी को लग रहा था कि कोई उन्हें फेक कॉल कर परेशान कर रहा है। मेकर्स ने उन्हें इस बीच कई बार कॉन्टैक्ट करने की कोशिश की और बताने की कोशिश की कि ये कई स्कैम नहीं है।

बाद में हिमानी ने केबीसी शो में आने के लिए सारे प्रॉसेस को फॉलो किया और अपने सपनों को पूरा करने के लिए आगे बढ़ीं। हिमानी के मुताबिक उनका ये बचपन का सपना था कि अमिताभ बच्चन से केबीसी के सेट पर मिलें और हॉट सीट पर बैठें।

बता दें, विजय सिंह और सरोज बुंदेला की बेटी हिमानी दृष्टिबाधित हैं। हिमानी को रिएलिटी शोज देखना शुरू से ही बहुत पसंद रहा है। ऐसे में वह अमिताभ बच्चन का शो केबीसी जरूर देखती थीं। वह चाहती थीं कि वो भी शो में पार्टिसिपेट करें। 9 साल की उम्र से केबीसी में जाकर हॉटसीट में बैठने का सपना देखती आईं हिमानी के साथ इस बीच एक दर्दनाक हादसा हो गया। 15 साल की उम्र में उन्होंने एक एक्सिडेंट में अपनी आंखें खो दी थीं। बावजूद इसके हिमानी ने कभी सपने देखना नहीं छोड़ा। साथ साथ हिमानी अपनी पढ़ाई पूरी करती गईं और केंद्रीय विद्यालय नं 1 में मेथमैटिक्स की टीचर बन गईं। इसी के साथ ही उन्होंने अपने केबीसी रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया को बनाए रखा। और अंत में उन्होंने न सिर्फ शो में एंट्री पाई, बल्कि कजन 13 की पहली करपोड़पति बनकरभी दिखाया।