जानिए क्यों ट्रेंड हुआ #EvenTaliban, तालिबान की पीसी के बहाने कैसे लोग मार रहे ताने

तालिबान के प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर ट्विटर पर #EvenTaliban ट्रेंड कर रहा है। एक वर्ग पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा एक भी प्रेस कॉन्फ्रेंस न किए जाने को लेकर तंज़ कर रहा है ।

taliban pc, narendra modi, punya prasun bajpai तालिबान के प्रेस सम्मलेन को लेकर लोग PM मोदी पर निशाना साध रहे हैं (Photos-File/AP)

अफ़ग़ानिस्तान पर 20 सालों दोबारा कब्ज़ा करने के बाद तालिबान ने काबुल में पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। तालिबान के प्रेस कॉन्फ्रेंस की चर्चा भारत में भी खूब हो रही है। सोशल मीडिया पर एक वर्ग पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा एक भी प्रेस कॉन्फ्रेंस न किए जाने को लेकर तंज़ कर रहा है । ट्विटर पर #EvenTaliban ट्रेंड कर रहा है। पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह और वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी समेत कई लोग तालिबान के प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर पीएम मोदी पर तंज़ कर रहे हैं।

सूर्य प्रताप सिंह ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए गए एक ट्वीट में लिखा, ‘यहां तक कि तालिबान ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इंडिया प्रतीक्षारत है।’

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने ट्वीट किया, ‘..अब तो तालिबान ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ली।’ लेखिका ऋचा सिंह ने ट्वीट किया, ‘यहां तक की तालिबान भी अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवालों के जवाब दे रहा है.. मैं बस कह रही हूं।’

सुशील नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘नरेंद्र मोदी जी, अब तो काले दाढ़ी वालों ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर लिया। बस देश को इंतजार रहेगा उजले दाढ़ी वाले के प्रेस कॉन्फ्रेंस की।’ सुष्मिता मजूमदार नाम की एक यूजर ने लिखा, ‘तालिबान प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहा है। मोदी ने 7 सालों में एक भी नहीं किया।’ मलिक नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘तालिबान ने आते ही प्रेस कॉन्फ्रेंस की। यहां तो 7 साल गुजर गए।’

बता दें, काबुल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि हम अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आश्वस्त करना चाहते हैं कि किसी को कोई नुकसान नहीं होगा। महिलाओं पर बात करते हुए मुजाहिद ने कहा, ‘हम शरिया व्यवस्था के तहत महिलाओं के अधिकारों को लेकर प्रतिबद्ध हैं। महिलाएं हमारे साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करने जा रहीं हैं। हम अंतरराष्ट्रीय समुदाय को यकीन दिलाना चाहते हैं कि उनके साथ कोई भेदभाव नहीं होगा।’