जापानी स्कूलों का फरमान, काले बाल नहीं हैं तो देना होगा असली रंग का प्रमाण

कॉन्सेप्ट इमेज (AP)

कॉन्सेप्ट इमेज (AP)

जापान (Japan) में आधे स्कूलों ने फरमान जारी कर दिया है कि यदि किसी छात्र (Student) के बाल वेवी हैं या काले रंग के नहीं हैं तो उन्हें इनके अर्टिफीशियल या कलर्ड न होने का प्रमाण देना होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 2:38 PM IST
  • Share this:
टोक्यो. भारत (India) में अकसर स्कूलों में डिसीप्लिन के तहत बच्चों को बालों की ओवर स्टाइलिंग के लिए डांट पड़ती है. लेकिन कैसा हो अगर कोई आपसे आपके बालों के असली होने का प्रमाणपत्र मांगने लगे? दरअसल जापान (Japan) में जन्म से काले बाल नहीं होने पर लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. यहां के टोक्यो में ऐसा ही कुछ हो रहा है. लगभग आधे स्कूलों ने फरमान जारी कर दिया है कि यदि किसी छात्र के बाल वेवी हैं या काले रंग के नहीं हैं तो उन्हें इनके अर्टिफीशियल या कलर्ड न होने का प्रमाण देना होगा.

शहर के 177 स्कूलों में से 79 ने ये आदेश दिया है. बता दें कि जापान में कई स्कूलों में बाालों के रंग, मेकअप, यूनिफॉर्म और यहां तक कि लड़कियों की स्कर्ट की लंबाई तक के लिए सख्त नियम हैं.

ये भी पढ़ें: टोक्यो के शिक्षा बोर्ड ने जापान की मीडिया NHK को बताया कि बालों के लिए प्रमाण पत्र हर जगह अनिवार्य नहीं हैं. लेकिन 79 स्कूलों में से केवल पांच स्कूलों ने यह स्पष्ट किया है कि यह आवश्यकता नहीं है.