जो ईमान की बोली लगा चुके वो देश की नीलामी से पीछे कैसे रहेंगे? मोदी सरकार पर कांग्रेस नेता का तंज, पूर्व IAS ने भी साधा निशाना

राष्ट्रीय मुद्रीकरण योजना को लेकर कांग्रेस नेता श्रीनिवास बीवी ने सरकार पर निशाना साधा और कहा कि जो ईमान की बोली लगा चुके वो देश की नीलामी से पीछे कैसे रहेंगे।

pm narendra modi, srinivas bv प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बीते सोमवार को राष्ट्रीय मुद्रीकरण योजना का अनावरण किया। योजना के तहत रोड, रेलवे, एयरपोर्ट, पावर ट्रांसमिशन और गैस पाइपलाइन सेक्टर्स के कम उपयोग वाली संपत्तियों की हिस्सेदारी को बेचा जाएगा। अपने इस फैसले को लेकर सरकार एक बार फिर से विपक्ष के साथ-साथ आम जनता के निशाने पर आ गई है। कांग्रेस नेता श्रीनिवास बीवी सहित बॉलीवुड के निर्देशक अनुभव सिन्हा और पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने भी सरकार के फैसले पर तंज कसा।

कांग्रेस नेता श्रीनिवास बीवी ने सरकार के फैसले पर तंज कसते हुए लिखा, “जो अपने ईमान की बोली लगा चुके हैं, वो देश की नीलामी से कैसे पीछे रहेंगे।” कांग्रेस नेता के ट्वीट का जवाब देते हुए मोहम्मद सलीम नाम के यूजर ने लिखा, “चार गुजराती देश को चला रहे हैं, दो बेच रहे हैं दो खरीद रहे हैं।” पूजा ठाकुर नाम की यूजर ने लिखा, “मोदी ने ठाना है, युवाओं को कटोरा थमाना है।”

कांग्रेस नेता के अलावा पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा, “बाप ने घर बनवा दिया, बेटा रंगाई-पुताई भी नहीं करवा पा रहा है। वो पुराना घर बेचकर अपने सभी उधार चुकाकर एक फ्लैट में शिफ्ट होने को तरक्की बता रहा है।” सूर्य प्रताप सिंह यहीं नहीं रुके। उन्होंने ट्वीट में आगे लिखा, “पुश्तैनी मकान बेचकर बेटा कहता है ‘मैं फ्लैट नहीं बिकने दूंगा।”

सूर्य प्रताप सिंह ने ट्वीट में आगे लिखा, “मोहल्ले में दो रुपये की चाय के लिए उसके साथ घूमने वाले लफुए उसकी वाहवाही करते हैं। ये कहानी बस इतनी सी बात समझाती है, बनाने में 70 साल लगते हैं, बेचने में 7 भी नहीं लगते हैं। कहानी सुनी हुई है, पर फिर सुनाना जरूरी था।”

वहीं बॉलीवुड निर्देशक अनुभव सिन्हा ने मोदी सरकार से सवाल करते हुए ट्वीट में लिखा, “अगर इस पाइपलाइन के बाद सरकार आधारभूत संरचना का संचालन नहीं करेगी तो क्या हम टैक्स में कमी की उम्मीद कर सकते हैं?” बता दें कि इससे पहले भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने भी सरकार पर निशाना साधा था।

राकेश टिकैत ने इस योजना को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, “स्वदेशी के झंडेबार आज देश के नवरत्नों को निजी हाथों में सौंपने के लिए आतुर है। देश में विकास के प्रतीक बिजली, परिवहन निजी हाथों में होंगे तो भविष्य क्या होगा आप अंदाज लगा सकते हैं। मिट्टी की सौगंध खाने वाले आज देश बेच रहे हैं।”