ज्ञानवापी मस्जिद की वो 10 तस्वीरें, जिनको लेकर दोनों पक्षों के अपने-अपने दावे

ज्ञानवापी-श्रृंगार गौरी मामले में आज वाराणसी जिला कोर्ट बड़ा फैसला सुनाने जा रहा है. वाराणसी के जिला जज डॉ. अजय कृष्ण विश्वेश दोपहर ढाई बजे फैसला सुनाएंगे कि ज्ञानवापी-श्रृंगार गौरी केस सुनवाई के लायक है या नहीं. पांच महिलाओं ने ज्ञानवापी मस्जिद परिसर के श्रृंगार गौरी मंदिर में हर रोज पूजा का हक मांगा है. इसके बाद मस्जिद का सर्वे हुआ था.

वाराणसी कोर्ट के आदेश पर ज्ञानवापी मस्जिद की वीडियोग्राफी कराई गई थी. सर्वे के बाद हिंदू पक्ष ने दावा किया था कि मस्जिद के तहखाने में शिवलिंग मौजूद है, जबकि मुस्लिम पक्ष ने इसे फव्वारा बताया था. यह पूरा मामला खास और संवेदनशील है, लिहाजा सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए हैं. ज्ञानवापी परिसर के आस-पास धारा 144 लागू है.

हिंदू पक्ष की अपनी दलील, मुस्लिम पक्ष के अपने दावे

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर हिंदू पक्ष की अपनी दलील है और मुस्लिम पक्ष के अपने दावे हैं, लेकिन कुछ सर्वे टीम के कैमरे ने ज्ञानवापी के अंदर जो कुछ देखा उससे दलीलों और दावों नए सवाल खड़े हो गए. आपको दिखाते हैं ज्ञानवापी मस्जिद की वो 10 तस्वीर, जिन्हें लेकर हिंदू पक्ष और मुस्लिम पक्ष अपने-अपने दावे कर रहा है. 

– सबसे पहली तस्वीर वजूखाने की. यहीं पर दिखी ये काले पत्थर वाली आकृति. हिंदू पक्ष का दावा है कि ये शिवलिंग है. सर्वे टीम के सामने वजूखाने से पानी निकालकर रिकॉर्डिंग की गई तब इस गोलाकार आकृति का खुलासा हुआ. मुस्लिम पक्ष इस आकृति को फव्वारा बता रहा है.

– सर्वे का दूसरा अहम वीडियो नंदी से जुड़ा हुआ है. 83 फीट की दूरी पर नंदी हैं. जब सर्वे करने गई टीम मस्जिद में दाखिल हुई तो हिंदू पक्ष ने कहा कि नंदी शिवलिंग की तरफ ही देख रहे हैं. मुस्लिम पक्ष इस दावे को खारिज कर रहा है.

– सर्वे टीम ने मस्जिद के अंदर और बाहर दीवारों की भी रिकॉर्डिंग की थी. हिंदू पक्ष के दावों के मुताबिक, वहां कई आकृति दिखीं जो हिंदू आस्था से जुड़ी हुई हैं. मुस्लिम पक्ष ऐसे दावों को नकार रहे हैं.

– सर्वे के दौरान हुई रिकॉर्डिंग में कुछ शिलाओं पर बने त्रिशूल जैसी आकृति दिखी. हिंदू पक्ष इसे मंदिर होने के निशान के तौर पर बता रहा है.

– जब मस्जिद का वीडियो सामने आया तो दीवार पर कुछ शब्द लिखे भी दिखे। कैमरामैन ने ज्ञानवापी की वो तस्वीरें भी कैद की हैं। हिंदू पक्ष का कहना है कि ये मंत्र लिखे हैं।

– सबसे अहम तस्वीरों में से एक ये भी है. हिंदू पक्ष ऐसी तस्वीरों का भी हवाला दे रहा है. वादी का कहना है कि दीवारों पर जो फूल, घंटी जैसी आकृति है, वो सभी हिंदू आस्था से जुड़ी हैं.

– ज्ञानवापी में सर्वे करने वाली टीम ने तीनों गुंबदों का मुआयना भी किया था. वहां भी हर हिस्से की रिकॉर्डिंग हुई थी. इस दौरान उन्हीं गुंबदों के नीचे भी गुंबद दिखे. दो दो गुंबद होने को लेकर भी सवाल उठे हैं.

– सर्वे वाली टीम मस्जिद के तहखाने में भी पहुंची थी. सीढ़ियों के सहारे उतरते हुए जब टीम तहखाने में दाखिल हुई तो वहां स्वास्तिक के निशान भी दिखे, जो अब तस्वीरों में कैद हैं.

– मस्जिद की पश्चिमी दीवार की रिकॉर्डिंग के दौरान कई ऐसे चिन्ह दिखे जो हिंदू पक्ष के दावों के मुताबिक, ये उनकी आस्था के प्रतीक चिन्ह हैं. जैसे दीया जलाने का स्थान, फूल, घंटी जैसी आकृति. सब अब वीडियो में कैद हो चुकी हैं. 

– ज्ञानवापी में तहखाने में मलबे के बीच में कुछ अवशेष भी मिले. उनकी भी रिकॉर्डिंग की गई थी. हिंदू पक्ष कह रहा है कि ये सभी अवशेष मंदिर के हैं.