तमिलनाडु चुनावः जिस सीट पर 9 साल काबिज रहे एमजीआर, वहीं से चुनाव लड़ने की तैयारी में अभिनेता कमल हासन

2016 के विधानसभा चुनाव में इस सीट से द्रविड़ मुनेत्र कषगम (डीएमके) को जीत मिली थी। डीएमके के उम्मीदवार ने एआईडीएमके के प्रत्याशी को चुनाव में हराया था।

Tamil Nadu Election,MGR,Kamal Haasan

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव को लेकर सभी दलों की तरफ से तैयारी चल रही है। अभिनेता से राजनेता बने कमल हासन की पार्टी ‘मक्कल निधि मय्यम’ भी इस बार चुनाव में हिस्सा ले रही है। उम्मीद की जा रही है कि कमल हासन इस चुनाव में दो विधानसभा क्षेत्र से चुनाव में उतरेंगे। जिनमें से एक वो सीट है जहां से तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एमजीआर 9 साल तक विधायक रहे थे।

पार्टी सूत्रों के अनुसार हासन अलान्दुर और कोयंबटूर दक्षिण से चुनाव में उतरने वाले हैं। अलान्दुर से तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और लोकप्रिय नेता रहे हैं एमजीआर चुनाव जीतते रहे थे। एमजीआर के नाम से प्रसिद्ध मारुदुर गोपालन रामचन्द्रन भी तमिल फिल्मों के अभिनेता रहे थे और बाद में उन्होंने लंबे समय तक अपनी राजनीतिक पारी खेली थी। मृत्युपर्यन्त 1987 तक वो तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहे थे।

पिछले चुनाव में डीएमके को मिली थी जीत: 2016 के विधानसभा चुनाव में इस सीट से द्रविड़ मुनेत्र कषगम (डीएमके) को जीत मिली थी। डीएमके के उम्मीदवार ने एआईडीएमके के प्रत्याशी को चुनाव में हराया था। इस सीट पर 6 अप्रैल को मतदान होना है।

कमल हासन की पार्टी ने इस चुनाव में आर सरथकुमार की पार्टी अखिल भारतीय समथुवा मक्कल काची के साथ गठबंधन किया है। इसके साथ ही कई अन्य दलों के साथ भी उनकी बातचीत चल रही है। चर्चा है कि विजयकांत की पार्टी के साथ भी उनकी बातचीत चल रही है।

उम्मीदवारों से मांगा था ऑनलाइन आवेदन: कमल हासन की पार्टी ने चुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवारों से ऑनलाइन आवेदन मांगा था। जिनमें कई शर्तें रखी गयी थी। ऑनलाइन आवेदन करने वाले को फॉर्म भरते समय 25 हजार रुपये की फीस भी देने की बात की गयी थी।

रजनीकांत से की थी मुलाकात: हाल ही में कमल हासन ने रजनीकांत से मुलाकात की थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि थलाइवा का समर्थन प्राप्त करने का वो प्रयास करेंगे। गौरतलब है कि 29 दिसंबर 2020 को रजनीकांत ने कहा था कि वो राजनीति में नहीं आएंगे। न ही पहले घोषित की गयी पार्टी को लॉन्च करेंगे।